Home » इंडिया » Hyderabad: A man passed metric exam after promotion due to coronavirus before fails 33 times
 

सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी के लिए चाहिए था 10वीं का सर्टिफिकेट, 33 बार हुए फेल, फिर आया कोरोना काल और..

कैच ब्यूरो | Updated on: 31 July 2020, 13:25 IST

Hyderabad: हैदराबाद से एक काफी दिलचस्प घटना सामने आई है. यहां एक व्यक्ति 33 बार 10वीं की परीक्षा में फेल होने के बाद कोरोना वायरस की कृपा से इस बार पास हो गए. कोरोना संक्रमण महामारी का फायदा तेलंगाना के एक 51 वर्षीय शख्स को मिला. कोरोना वायरस उनकी जिंदगी में एक बड़ी खुशी लेकर आया.

हैदराबाद के रहने वाले यह शख्स पिछले 33 साल से कक्षा 10 की परीक्षा दे रहे थे और हर साल फेल हो जा रहे थे. लेकिन इस बार उनकी किस्मत मेहरबान थी और कोरोना संक्रमण के मद्देनजर सरकार के लिए गए एक फैसले से सफलता उनके हाथ लग गई. इस शख्स का नाम मुहम्मद नूरुद्दीन है.

मुहम्मद नूरुद्दीन ने बताया कि वह पिछले 33 सालों से मैट्रिक की परीक्षा में फेल हो रहे थे. उन्होंने बताया कि उनकी अंग्रेजी कमजोर है, इस कारण वह हर साल फेल हो जाते थे. उन्होंने बताया कि अंग्रेजी में कोई उनकी मदद नहीं कर रहा था. वह इतना सक्षम भी नहीं कि अंग्रेजी की कोचिंग या ट्यूशन ले सकें.

राफेल भारत आने से पाकिस्तान के रातों की उड़ी नींद, Google में ढूंढ रहा तरह-तरह की जानकारी

उन्होंने बताया कि हर साल फेल होने के बाद वह अगले साल फिर परीक्षा में शामिल होने के लिए फॉर्म भरते थे. इस दौरान उनके भाई-बहन उनकी मदद करते थे. उन्होंने बताया कि वह सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करना चाहता थे. इसके लिए 10वीं पास का सर्टिफिकेट चाहिए था. हालांकि किस्मत से उन्हें बिना मैट्रिक पास हुए ही  सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी मिल गई थी.

साल 1989 से वह सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी कर रहे हैं, उन्हें 7,000 रुपये तनख्वाह मिलती है. उन्होंने बताया कि नौकरी के बाद भी वह मैट्रिक पास करना चाहते थे. लेकिन 33 साल से फेल हो रहे थे. इस साल मैं कोरोना वायरस की वजह से वह कक्षा 10 की परीक्षा पास कर सके, क्योंकि सरकार ने बिना परीक्षा के ही सभी छात्रों को अगली कक्षा में भेजने का फैसला किया.

इसके आगे उन्होंने कहा कि अब वह आगे की पढ़ाई करेंगे. अब वह स्नातक और स्नातकोत्तर की पढ़ाई भी पूरी करेंगे. उन्होंने बताया कि पढ़े लिखे की सभी जगह इज्जत होती है.

बंगाल के राज्यपाल का बड़ा आरोप- ममता सरकार में हिंसा और भ्रष्टाचार शासन का हिस्सा

कोरोना वायरस पर बड़ी खुशखबरी, ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन ने बंदरों पर किया कमाल

First published: 31 July 2020, 13:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी