Home » इंडिया » Hyderabad Police Encounter: All four accused of woman veterinarian rape and murder killed in an encounter
 

हैदराबाद: जिस हाईवे पर डॉक्टर का हुआ था गैंगरेप, वहीं पुलिस ने चारों आरोपियों का किया एनकाउंटर

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 December 2019, 9:06 IST

Hyderabad Encounter: हैदराबाद में महिला डॉक्टर(Lady Veterinary Doctor) के साथ कथित गैंगरेप(Gang rape) और मर्डर की वारदात करने वाले चारों आरोपियों को तेलंगाना पुलिस(Telangana Police Encounter) ने एनकाउंटर(Encounter) में मार गिराया है. तेलंगाना पुलिस ने आज सुबह शादनगर के पास मुठभेड़ में सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के चारों आरोपियों की गोली मारकर हत्या कर दी.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, ये चारों आरोपी तब मारे गए, जब उन चारों आरोपियों ने हैदराबाद से लगभग 50 किलोमीटर दूर शादनगर के पास चटनपल्ली से भागने की कोशिश की थी. पुलिस ने इन आरोपियों को उसी स्थान पर मारा, जहां आरोपियों ने 27 नवंबर की रात पीड़िता के साथ शमशाबाद के पास सामूहिक दुष्कर्म करके उसकी हत्या कर शव को जलाकर दिया था.

दरअसल, पुलिस जांच के हिस्से के रूप में आरोपियों को उसी जगह क्राइम सीन रिक्रिएट करने के लिए मौके पर ले गई थी. इस दौरान आरोपियों ने भागने की कोशिश की. इसके बाद पुलिस ने उन्हें ऑन द स्पॉट मार गिराया. डॉक्टर के साथ हुई दर्दनाक घटना ने देशभर में गुस्से की लहर पैदा कर दी थी. इसके बाद अपराधियों को तत्काल मौत की सजा देने की मांग की जा रही थी.

इस जघन्य अपराध ने साल 2012 में दिल्ली के निर्भया गैंगरेप (Nirbhaya Case) की याद दिला दी थी. इस घटना ने पूरे देश में फिर से आक्रोश फैला दिया था. घटना के बारे में पुलिस ने बताया था कि बुधवार देर रात शमशाबाद में थोंडापल्ली टोल प्लाजा के पास आरोपियों ने एक खाली प्लॉट में ले जाकर महिला डॉक्टर के साथ एक के बाद एक बलात्कार किया था.

पुलिस ने बताया था कि ट्रक ड्राइवर मोहम्मद आरिफ ने एक और साथी ड्राइवर सी चेन्नेशवुलु तथा अपने दो हेल्परों जे शिवा और जे नवीन के साथ शमशाबाद (Shamshabad) टोल प्लाजा (Toll Plaza) के पार्क में एक स्कूटी देखी. इस दौरान उन्होंने डॉक्टर के साथ बलात्कार करने की योजना बनाई थी. 

हैदराबाद 'निर्भया' के गैंगरेप और मर्डर की खौफनाक वारदात जानकर कांप जाएगी आपकी रूह, 4 गिरफ्तार

हैदराबाद निर्भया: 2004 में आखिरी बार हुई थी रेपिस्ट को फांसी, तब से अब तक 4 लाख रेप केस

First published: 6 December 2019, 8:49 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी