Home » इंडिया » Hyderabad: Two truck drivers and two helpers raped and murder to Lady Veterinary Doctor
 

हैदराबाद 'निर्भया' के गैंगरेप और मर्डर की खौफनाक वारदात जानकर कांप जाएगी आपकी रूह, 4 गिरफ्तार

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 November 2019, 10:16 IST

Hyderabad Nirbhaya : हैदराबाद में एक महिला डॉक्टर का कथित तौर पर गैंगरेप और मर्डर की वारदात ने सबको झकझोर कर रख दिया है. इस घटना के बाद देशभर में गुस्सा व्याप्त है. पुलिस ने मामले में चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है. इसमें दो ट्रक ड्राइवर और उनके दो हेल्पर हैं. शुक्रवार को साइबराबाद पुलिस ने इन चारों को गिरफ्तार किया.

इस जघन्य अपराध ने साल 2012 में दिल्ली के निर्भया गैंगरेप (Nirbhaya Case) की याद दिला दी और पूरे देश में एक बार फिर आक्रोश फैल गया है. इस घटना के बारे में पुलिस ने जो बताया उसे जानकर आपकी रूह कांप जाएगी. पुलिस के अनुसार, बुधवार देर रात शमशाबाद में थोंडापल्ली टोल प्लाजा के पास आरोपियों ने खाली प्लॉट में महिला डॉक्टर को ले जाकर एक के बाद एक उसके साथ बलात्कार किया.

साइबराबाद के पुलिस कमिश्नर वीसी सज्जनगर के अनुसार, ट्रक ड्राइवर मोहम्मद आरिफ (जिसकी उम्र 26 साल है) ने एक और ट्रक ड्राइवर सी चेन्नेशवुलु (जिसकी उम्र 20 साल है) तथा अपने दो हेल्परों जे शिवा और जे नवीन के साथ बुधवार को शमशाबाद (Shamshabad) में टोल प्लाजा (Toll Plaza) के पार्क में एक स्कूटी देखी. आरोपियों को पता था कि लेडी डॉक्टर (Lady Veterinary Doctor) वापस अपनी स्कूटी लेने आएगी. इस दौरान उन्होंने डॉक्टर के साथ बलात्कार करने की योजना बनाई. 

दरअसल, डॉक्टर अपने घर शम्शाबाद से कोल्लुरु स्थित पशु चिकित्सालय गई थीं. शाम को जब वह वहां से वापस लौट रही थीं तो तकरीबन 6 बजे उनकी स्कूटी टोल प्लाजा के पास पंचर हो गई. स्कूटी पंचर होने के बाद डॉक्टर ने अपने घर फोन किया और अपनी बहन को इसकी जानकारी दी. डॉक्टर ने अपनी बहन से बताया कि उन्हें बहुत तेज डर लग रहा है. इस पर डॉक्टर की बहन ने उन्हें टोल प्लाजा वापस जाकर कैब से घर आने की सलाह दी.

इसके बाद महिला डॉक्टर ने बताया कि वह थोड़ी देर बाद फोन करती हैं. इसके बाद महिला डॉक्टर का फोन स्विच ऑफ हो गया. पुलिस के अनुसार, डॉक्टर लगभग 9 बजे टोल प्लाजा के पास स्कूटी लेने के लिए वापस लौटीं. इस दौरान एक आरोपी आरिफ ने उनसे मदद करने के बहाने संपर्क किया. आरिफ के हेल्पर शिवा ने स्कूटी से एक टायर यह कहते हुए निकाल लिया कि वह इसे ठीक करवा कर लाएगा.

शिवा उनकी स्कूटी को पास ही मकैनिक की एक दुकान पर ले जाने लगा. तभी मौका पाकर तीन अन्य लोगों ने डॉक्टर का मुंह दबाकर उन्हें पास के एक खाली पड़े प्लॉट में ले गए और उनके साथ बलात्कार करना शुरू कर दिया. इस दौरान शिवा भी लौट आया और उसने भी डॉक्टर के साथ बलात्कार किया. पुलिस के अनुसार, आरिफ ने इस दौरान महिला डॉक्टर की पिटाई भी की क्योंकि वह मदद के लिए चिल्ला रही थी. पुलिस के अनुसार यह घटना तकरीबन 9.35 बजे से रात 10 बजे के बीच हुई.

कहा जा रहा है कि आरोपियों में से एक ने उसका बलात्कार के दौरान ही गला दबाया हुआ था, ताकि उसकी चीखें न गूंज सकें. इस दौरान डॉक्टर का दम घुट गया और उसकी मौत हो गई. इसके बाद उन लोगों ने शव को एक ट्रक में डाला और हाईवे के किनारे पेट्रोल पंप से पेट्रोल और डीजल खरीदा.

पुलिस ने बताया कि महिला डॉक्टर के साथ हैदराबाद के बाहरी इलाके शमशाबाद में टोंडुपल्ली टोल प्लाजा के पास गैंगरेप किया गया. वहीं हत्या करने के बाद डॉक्टर के शव को कई किलोमीटर दूर ले जाकर रंगा रेड्डी जिले में हाईवे के किनारे एक अंडर पास के नीचे पेट्रोल छिड़ककर उसे आग लगा दी. पुलिन ने दावा किया कि आरोपियों ने अपराध को अंजाम देने के दौरान शराब पी रखी थी.

महिला डॉक्टर की रास्ते में पंचर हुई स्कूटी, घर फोन कर कहा- डर लग रहा, सुबह मिली जली हुई लाश

रांची: नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी की छात्रा का अपहरण कर 12 लोगों ने किया गैंगरेप, मचा बवाल

First published: 30 November 2019, 10:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी