Home » इंडिया » I cried because my senior officer stood in front of me: IPS Charu Nigam
 

IPS चारू निगम ने बयां किया दर्द- मेरे आंसुओं को मेरी कमज़ोरी न समझना...

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 May 2017, 16:30 IST

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के गढ़ गोरखपुर में एक महिला आईपीएस अफसर के साथ हुई बदसलूकी के मामले में नया मोड़ आ गया है. महिला आईपीएस ने मीडिया में चल रही ख़बरों को देखने के बाद अपने फेसबुक हैंडल पर लिखा है कि वह विधायक राधामोहन अग्रवाल के डांटने के कारण नहीं रोईं, बल्कि उनके वरिष्ठ अधिकारी उनके पक्ष में खड़े हुए, इसलिए आंख में आंसू आए.

एक तरफ योगी आदित्यनाथ अपने विधायकों को आचरण पर लंबा-लंबा भाषण दे रहे हैं, वहीं उनकी पार्टी के कई नेता पुलिस समेत अन्य अफसरों के साथ बदसलूकी करते देखे जा रहे हैं. रविवार को जब योगी के गृहक्षेत्र गोरखपुर में शहर के विधायक राधामोहन अग्रवाल ने अफसर को फटकारा, तो मामले ने तूल पकड़ लिया.

अफसर को डांटने वाला वीडियो सामने आने के बाद कमोबेश सभी मीडिया में यह ख़बर प्रसारित और प्रकाशित हुई कि विधायक की डांट से दुखी होकर महिला आईपीएस अफसर चारू निगम रोने लगीं. लेकिन अब चारू निगम ने सामने आकर इसका खंडन किया है.

उन्होंने फेसबुक पर लिखा, "मेरी ट्रेनिंग ने मुझे इतना कमज़ोर नहीं बनाया है. मैंने उम्मीद नहीं की थी कि मेरे सीनियर अफसर गणेश साहा सर मौक़े पर पहुंचते ही उनके कुतर्कों को खारिज करके मेरे पक्ष में खड़े हो जाएंगे." उन्होंने आगे लिखा कि इस भावुकता के कारण उनकी आंखों में आंसू आए. साथ में उन्होंने चार पंक्तियों की कविता भी लगाई है.

मेरे आंसुओं को मेरी कमज़ोरी न समझना,
कठोरता से नहीं कोमलता से अश्क झलक गये...
महिला अधिकारी हूं तुम्हारा गुरूर न देख पायेगा,
सच्चाई में है ज़ोर इतना अपना रंग दिखलाएगा...

First published: 8 May 2017, 16:19 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी