Home » इंडिया » I want to live here and die here: Aamir Khan
 

यहीं पैदा हुआ, यहीं मरूंगा : आमिर खान

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 January 2016, 16:18 IST

असहनशीलता के मुद्दे पर पिछले दिनों निशाने पर रहे आमिर खान ने सोमवार को इस मामले पर अपनी सफाई दी है.

आमिर ने कहा है कि कुछ लोगों ने मेरी बातों को ठीक से नहीं समझा. मैं अपने देश छोड़कर कहीं नहीं रह सकता.

आमिर ने मुंबई में फिल्म 'रंग दे बसंती' के 10 साल पूरे होने की खुशी में रखी गई इस फिल्म के स्क्रीनिंग के दौरान ये बातें कहीं.

आमिर ने कहा कि 'कुछ लोगों ने मेरी बात को समझा नहीं कि मैंने क्या कहा, और कुछ लोग मुझसे गुस्सा हो गये. मैं उन लोगों के गुस्से और नाराजगी को समझता हूं.

कुछ लोगों को लगता है कि मैं देश छोड़ना चाहता हूं लेकिन इसमें कोई सच्चाई नहीं है. 'मैं यहीं पैदा हुआ हूं और इसी देश में मरूंगा. मैं तो अपना देश छोड़कर 3 हफ्ते से ज्यादा कहीं रह भी नहीं पाता. मुझे अपने घर की याद सताने लगती है।'

इस मामले में आमिर ने यह भी कहा कि 'मैंने देश में असहनशीलता के बारे में कभी भी कुछ भी नहीं कहा और मैनें ये भी कभी नहीं कहा कि मैं देश को छोड़कर चला जाऊंगा. मेरी फिल्मों को या फिर मेरे बनाये 'सत्यमेव जयते' को आप देखें तो मैंने हमेशा ही देश को बनाने और एक सूत्र में जोड़ने का काम किया है.'

आमिर ने अपने विचार में किरण राव की टिप्पणी पर कहा कि 'किरण ने जो भी बातें कही थी, उसे दुनिया के सामने नहीं रखना चाहिए था.'

पिछले दिनों आमिर खान ने अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस के एक कार्यक्रम में असहनशीलता के मुद्दे पर दिये अपने बयान में कहा था कि उनकी पत्नी किरण इस मामले को लेकर काफी डरी हुई हैं और इस हालात देखकर उन्हें एहसास होता है कि हम इस देश को छोड़ दे.

आमिर ने अपने बच्चों का हवाला देते हुए बताया था कि कभी-कभी किरण को अहसास होता है कि यह देश उनके बच्चे के लिए महफूज नहीं है. आमिर के इस बयान के बाद देश भर में विवाद हुए थे और कहीं न कहीं इस विवाद के मद्देनजर भारत सरकार की संस्कृति मंत्रालय ने आमिर को अतुल्य भारत के कैंपेन से अलग कर दिया था.

अब आमिर ने मीडिया के सामने अपने दिये बयान पर सफाई पेश की है कि उनकी बातों को ठीक से नहीं समझा गया इसलिए लोग उनके खिलाफ गुस्सा हुए.

First published: 26 January 2016, 16:18 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी