Home » इंडिया » IAF aircraft still missing as Navy, ISRO join search
 

अभी भी लापता है IAF का AN-32 विमान, सर्च अभियान में इसरो भी हुआ शामिल

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 June 2019, 14:29 IST

अरुणाचल प्रदेश में सोमवार को 13 लोगों के साथ लापता हुए भारतीय वायु सेना (IAF) के AN-32 विमान का अभी तक कोई पता नहीं चल पाया है. जबकि इस विमान का बड़े पैमाने पर खोज अभियान चल रहा है. एएन-32, असम के जोरहाट से सोमवार को दोपहर लगभग 12.30 बजे रवाना हुआ था. इसे अरुणाचल प्रदेश के नवगठित जिला शियोमी के मेचुका एडवांस्ड लैंडिंग ग्राउंड में दोपहर लगभग 1.30 बजे उतरना था.

स्टाफ के साथ विमान का अंतिम संपर्क दोपहर 1 बजे तक था. अरुणाचल का शियोमी जिला उत्तर में चीन की सीमा पर मौजूद है. यह हिमालयी राज्य के सबसे दूरस्थ स्थानों में से एक है. इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय नौसेना का एक अन्य विमान और इसरो के दो उपग्रह मंगलवार को लापता एएन -32 की खोज में शामिल हो गए.

इसके अलावा सेना, आईटीबीपी और जिला पुलिस इस विमान की खोजबीन जमीन पर कर रही है. इस संबंध में IAF के आधिकारिक ट्विटर हैंडर पर एक जानकारी भी पोस्ट की गई है. इसमें लिखा है, "#SearchAndRescue Ops: IAF के लापता AN-32 विमान का पता लगाने के लिए व्यापक प्रयास जारी है. इंडियन नेवी के P-8 I, RISAT जैसे उपग्रह और कई सेंसर से लैस विमान लापता विमान का पता लगाने के लिए ठोस प्रयास कर रहे हैं."

रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय सेना और अन्य सरकारी एजेंसियों के साथ निरंतर समन्वय किया जा रहा है. भारतीय वायुसेना के जनसंपर्क अधिकारी विंग कमांडर रत्नाकर सिंह ने कहा कि मंगलवार सुबह मौसम साफ होते ही बचाव अभियान शुरू किया गया, जिसमें दो MI17 और एक ALH हेलीकॉप्टर तथा सेना और ITBP के जवान मदद कर रहे हैं.

सिंह ने बताया, "खोज और बचाव अभियान अभी भी जारी है. अभी तक कोई मलबा नहीं मिला है." उन्होंने कहा कि नौसेना की P8i ने शाम 6.45 बजे खोज और बचाव अभियान समाप्त कर दिया था, जबकि IAF के SU-30 ने दोपहर में खोज और बचाव अभियान चलाया.

मोदी सरकार जल्द कर सकती है अमेरिका से 17,500 करोड़ की डिफेंस डील

First published: 5 June 2019, 8:17 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी