Home » इंडिया » IAF has present evidence of shot down of Pakistan's F-16
 

भारतीय वायुसेना के पास मौजूद हैं पाकिस्तानी F-16 के गिराए जाने के सबूत

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 April 2019, 9:58 IST

अमेरिकी पत्रिका ने छपी उस खबर को भारतीय वायुसेना ने सिरे से ख़ारिज किया है, जिसमे कहा गया था कि भारत ने पाकिस्तान का कोई भी F-16 विमान नहीं गिराया है. इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार भारतीय वायुसेना के आधिकारिक सूत्रों का कहना है कि उसके पास पाकिस्तानी F-16 विमान के सबूत मौजूद हैं. भारतीय वायुसेना सूत्रों के अनुसार भारतीय सेना ने उस दिन दो अलग-अलग विमानों को देखा, जिनके बीच कम से कम 8 से 10 किलोमीटर की दूरी थी.

इन दोनों विमानों में एक भारतीय सेना का मिग-21 और दूसरा पाकिस्तानी वायुसेना का विमान था. भारतीय वायुसेना कहना कि उनके पास जो इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्य मौजूद हैं, उसके अनुसार पाकिस्तान का विमान F-16 था.  रिपोर्ट के अनुसार IAF के सूत्रों ने कहा कि AWACS की तस्वीरों से साफ पता चलता है कि विंग-कमांडर अभिनंदन द्वारा संचालित मिग -21 बाइसन के आसपास केवल F-16 विमान थे, जबकि JF17 उत्तर में थे.

 

रिपोर्ट के अनुसार AWACS में आठ सेकंड का समय लिया गया, जो F-16 को गायब दिखाती है. सूत्रों ने कहा कि लापता विमान एफ -16 था, इसकी पुष्टि विभिन्न पीएएफ विमानों के इलेक्ट्रॉनिक हस्ताक्षर और रेडियो टेलीफोनी निगरानी द्वारा भी की गई थी. इसके अलावा, पाकिस्तान द्वारा सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर पोस्ट किए गए चित्र और वीडियो मलबे के मलबे को दिखाते हैं जो मिग -21 बाइसन फाइटर जेट से संबंधित नहीं है.

भारतीय वायुसेना के सूत्रों के अनुसार, सेना ने विंग कमांडर अभिनंदन का पहला पैराशूट देखा था, क्योंकि उनका मिग 21 को गोली लगने के बाद गिर गया था. दूसरी पैराशूट जनरल एरिया टैंडर में देखी गई थी, जो लापता एफ -16 विमान के अंतिम स्थान से मेल खाती है. IAF के सूत्रों ने कहा कि दूसरा पैराशूट F-16 पायलट का था, जिसे कोर सैन्य अस्पताल ले जाया गया था, क्योंकि DGISPR मेजर जनरल आसिफ गफूर ने शुरुआत में घोषणा की थी कि दो भारतीय पायलट इसकी कैद में थे.

 अमेरिका ने गिने पाकिस्तान के F-16, कहा-सभी सुरक्षित हैं, भारत का दावा गलत: रिपोर्ट

First published: 6 April 2019, 9:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी