Home » इंडिया » IAF tells Haryana govt Bird menace due to garbage dump danger to Rafale in Ambala,
 

अंबाला एयरबेस पर राफेल विमानों पर मंडरा रहा खतरा, वायु सेना ने हरियाणा सरकार को लिखा पत्र, की ये मांग

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 September 2020, 14:14 IST

हरियाणा के (Haryana) अंबाला एयर बेस (Ambala Air Force Station) पर राफेल (Rafale) लड़ाकू विमानों को रखा गया है. यह एयरबेस रणनीतिक रूप से काफी महत्वपूर्ण है. लेकिन खबर है कि यहां पर रखे गए राफेल लड़ाकू विमानों पर खतरा मंडरा रहा है जिसके कारण भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) ने हरियाणा सरकार के संपर्क किया है.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय वायु सेना (IAF) ने हरियाणा सरकार से संपर्क किया है और अंबाला वायु सेना स्टेशन के आसपास के क्षेत्र में मौजूद कचरे के ढ़ेर को हटाने के लिए त्वरित उपाय करने का अनुरोध किया, क्योंकि विमान के टेक ऑफ और लैंडिग के दौराम लड़ाकू विमान से पक्षियों के टकराने का खतरा है.


खबर के अनुसार, इस बाबत भारतीय वायु सेना के महानिदेशक निरीक्षण और सुरक्षा एयर मार्शल मानवेंद्र सिंह ने हरियाणा के मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा को एक पत्र लिखा है. पत्र में कहा गया है कि "29 जुलाई को अंबाला में शामिल राफेल विमान की सुरक्षा पर IAF का अधिक ध्यान है".

रिपोर्ट के अनुसार, पत्र में लिखा गया है,"अंबाला एयर फोर्स स्टेशन के आसपास पक्षियों का जमावड़ा बहुत अधिक है और अगर लड़ाकू विमान से इनकी टक्कर होती है तो बहुत गंभीर नुकसान की आशंका है. एयरबेस के पास पक्षियों की गतिविधि, आसपास के क्षेत्र में कचरे की उपस्थिति से संबंधित है. इस स्थिति से निपटने के लिए कई उपायों की सिफारिश की गई है और एयर ऑफिसर कमांडिंग एयर फोर्स स्टेशन अंबाला ने 24 जनवरी 2019, 10 जुलाई 2019 और 24 जनवरी 2020 को को आयोजित हुई एरोड्रम पर्यावरण प्रबंधन समिति की बैठकों के माध्यम से अंबाला के अतिरिक्त आयुक्त और अतिरिक्त नगर आयुक्त से मुलाकात की है."

पत्र में आगे कहा गया है कि लड़ाकू विमान की सुरक्षा के लिए यह आवश्यक है कि बड़े और छोटे पक्षियों को हवाई क्षेत्र से दूर रखा जाए. IAF ने अंबाला एयरफ़ील्ड के आसपास 10 किमी के एरोड्रम ज़ोन में बड़े पक्षियों की गतिविधि को कम करने के लिए सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट (SWM) योजना के तत्काल कार्यान्वयन की मांग की है.

रिपोर्ट के मुताबिक, वायु सेना के अधिकारी ने सुझाव देते हुए पत्र में आगे लिखा,"इसमें कूड़ा डालने पर जुर्माना लगाना, कचरा इकट्ठा करने में सुधार करना और एयरफील्ड से उपयुक्त दूरी पर उपयुक्त कूड़ा निस्तारण के लिए एक प्लांट लगाना शामिल होगा." इतना ही नहीं पत्र में अंबाला एयरफोर्स स्टेशन के आस पास कबूतर पालने पर प्रतिबंध लगाने की मांग की गई है. खबर के अनुसार, पत्र मिलने के बाद मुख्य सचिव ने इस मामले में तत्कलार एक्शन लेने के लिए शहरी स्थानीय निकाय विभाग को एक पत्र भेजा है.

India-China Face Off: पैंगोंग झील के दक्षिणी तट पर हुई झड़प में भारतीय स्पेशल फोर्स का एक जवान हुआ शहीद- रिपोर्ट

First published: 2 September 2020, 14:05 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी