Home » इंडिया » IB officer found dead in Northeast Delhi Chand Bagh
 

Delhi violence: चांद बाग में नाले से मिला आईबी अफसर का शव, पत्थरबाजो ने ली जान

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 February 2020, 16:23 IST

IB officer found dead in Northeast Delhi Chand Bagh: नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) को लेकर उत्तर-पूर्वी दिल्ली (North-East Delhi) में भड़की हिंसा में अब तक कुल 22 लोगों के मारे जाने की खबर है जबकि 250 से अधिक लोग घायल बताए जा रहे है. न्यूज एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली (Northeast Delhi) के चांग बाग (Chand Bagh) इलाके से एक आईबी अफसर (Intelligence Bureau) का शव बरामद किया गया है. इंटेलिजेंस ब्यूरो के अधिकारी की पहचान अंकित शर्मा के रूप में हुई है और उनका शव नाले से बरामद हुआ है. खबरों के अनुसार, अंकित शर्मा बीते दो दिनों से लापता थे.

इंटेलिजेंस ब्यूरो के सुरक्षा सहायक अंकित शर्मा साल 2017 में इंटेलिजेंस ब्यूरो में शामिल हुए थे और एक ड्राइवर के रूप में प्रशिक्षण ले रहे थे.  अंकित शर्मा की उम्र 26 वर्ष बताई जा रही है. पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार अंकित शर्मा चांग बाग इलाके के ही रहने वाले थे. अंकित शर्मा के शव को पोस्टमार्टम के लिए जीटीबी अस्पताल लेकर जाया गया है.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Delhi Chief Minister Arvind Kejriwal) ने इंटेलिजेंस ब्यूरो के कर्मचारियों की मौत की खबर पर प्रतिक्रिया देते हुए इसे दुखद नुकसान बताया. केजरीवाल ने आईबी अधिकारी के निधन पर लिखा,'जीवन का दुखद नुकसान. दोषियों को बख्शा नहीं जाना चाहिए. अब तक कुल 20 लोग पहले ही अपनी जान गंवा चुके हैं.' इंटेलिजेंस ब्यूरो के अधिकारी की मृत्यु पर दिल्ली हाई कोर्ट (Delhi High court) ने भी टिप्पणी की है, जो बुधवार को दिल्ली हिंसा पर एक याचिका पर सुनवाई कर रहा है. उच्च न्यायालय ने आईबी अधिकारी की मौत को बेहद दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया.

 

बुधवार को उत्तर-पूर्वी दिल्ली में मरने वालों की संख्या बढ़कर 22 पहुंच गई है. लोक नायक जय प्रकाश नारायण अस्पताल ने बताया बीते 24 घंटे में एक व्यक्ति की मौत हुई है जबकि 22 लोग घायल हैं. इन लोगों को बीते 24 घंटे में अस्पताल लाया गया था.

बता दें, शानिवार से दिल्ली के जाफराबाद, मौजपुर, ब्रह्मपुरी, बाबरपुर इलाकों में पथरबाजी और आगजनी की घटना होती रही. जबकि सोमवार और मंगलवार को इस घटना ने भयावह रूप ले लिया जिसमें दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के एक कांस्टेबल समेत 20 लोगों की मौत हो गई है. मंगलाव देर शाम हिंसा को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने दंगाईयों को देखते ही गोली मारने के आदेश दे दिए है.

उत्तर-पूर्वी दिल्ली में भड़की हिंसा के बाद जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर, गोकुलपुरी में पुलिस और अर्धसैनिकबल लगातार फ्लैग मार्च कर रहे हैं. वहीं जिन इलाकों में सोमवार और मंगलवार को हिंसा हुई थी वहां भारी संख्या में सुरक्षाबलों की तैनाती की गई है. दिल्ली पुलिस लगातार लोगों से अपील कर रही है कि वो एक जगह इकट्ठे ना हों और किसी भी अफवाह पर ध्यान ना दे.

हिंसा के बाद दिल्ली के हालात बेकाबू, यमुनापार के तीनों जिलों में हाई-अलर्ट घोषित

First published: 26 February 2020, 14:22 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी