Home » इंडिया » ICC Women's World Cup 2017: Harmanpreet Kaur mother's special message to India
 

हरमनप्रीत कौर की मां का मैसेज, जो हर भारतीय के लिए है मिसाल

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 July 2017, 12:33 IST
ट्विटर

दंगल फिल्म का एक डायलॉग है- म्हारी छोरियां छोरों से कम हैं के. महिला पहलवान गीता फोगाट की कामयाबी ये फिल्मी बनी थी. कुश्ती के मैदान से अब क्रिकेट की 22 गज की पिच ने भी इसे सच साबित किया है. ऑस्ट्रेलिया को 36 रन से हराकर महिला क्रिकेट टीम ने आईसीसी वर्ल्ड कप के फ़ाइनल में जगह बनाई है. इस जीत में हरमनप्रीत कौर के तूफ़ानी 171 रनों का सबसे अहम योगदान रहा. उनकी पारी की तुलना बहुत से समीक्षक कपिल देव की 1983 के वर्ल्ड कप में खेली गई 175 रन की पारी से भी कर रहे हैं.

पंजाब के मोगा जिले की हरमनप्रीत कौर का परिवार उनकी इस कामयाबी से काफ़ी खुश है. हरमनप्रीत की मां ने देशवासियों के लिए एक ख़ास संदेश दिया है. उन्होंने कहा, "लड़कियों का सशक्तिकरण होना चाहिए. उनकी गर्भ में हत्या नहीं होनी चाहिए. जिस तरह से मेरी बेटी ने देश का मान बढ़ाया है, उससे दूसरी लड़कियों को भी प्रेरणा मिलनी चाहिए."

हरमनप्रीत कौर के पिता भी बेटी की बुलंदी से बेहद प्रसन्न हैं. उन्होंने कहा, "अब उसे आगे भी कामयाब होते देखना चाहता हूं. उम्मीद है कि वर्ल्ड कप जिताकर वो देश को गर्व करने का मौका फिर देगी." भारत का अब रविवार को फाइनल में इंग्लैंड से मुकाबला है. टीम इंडिया के फ़ाइनल में पहुंचते ही हरमनप्रीत कौर के गृह नगर मोगा में परिजनों ने एक-दूसरे को मिठाई खिलाकर जीत का जश्न मनाया.

First published: 21 July 2017, 12:33 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी