Home » इंडिया » If BJP offer to form the govt, will consider - Farooq abdullah
 

बीजेपी के साथ गठबंधन की संभावना का फारूक अब्दुल्ला ने किया 'खंडन'

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 January 2016, 15:48 IST

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला ने बीजेपी के गठबंधन के प्रस्ताव पर विचार करने की खबर का खंडन किया है.

अब्दुल्ला ने रविवार को मीडिया को बताया कि उन्होंने कभी नहीं कहा कि वो बीजेपी के संग गठबंधन बनाने पर विचार कर रहे हैं.

इससे पहले समाचार एजेंसी पीटीआई के हवाले से खबर आयी थी कि बीजेपी ने प्रस्ताव दिया तो फारूक राज्य में गठबंधन सरकार बनाने पर विचार कर सकते हैं.

राज्य के मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद के निधन के बाद सत्तारूढ़ बीजेपी-पीडीपी गठबंधन के भविष्य को लेकर अटकलों का बाजार गर्म है.

कुल 87 सदस्यों वाली जम्मू-कश्मीर विधान सभा में सरकार बनाने के लिए 44 विधायक चाहिए. राज्य में नेशनल कांफ्रेंस के 15, बीजेपी के 25, पीडीपी के 27 और कांग्रेस के 12 विधायक हैं. शेष  सीटें अन्य पार्टियों और निर्दलीय के पास हैं.

पीडीपी की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती को सईद का स्वाभाविक उत्तराधिकारी माना जा रहा था लेकिन अभी तक उनके मुख्यमंत्री बनने को लेकर असमंजस की स्थिति है.

समाचार एजेंसी पीटीआी के अनुसार महबूबा मुफ्ती ने आज पार्टी के कोर समूह की बैठक बुलाई है.

अपने पिता सईद के निधन के बाद महबूबा पहली बार औपचारिक रूप से पार्टी बैठक की अध्यक्षता करेंगी. इस बैठक में पार्टी के सांसद, पूर्व मंत्री और वरिष्ठ नेता शामिल होंगे.

मान जा रहा है कि बैठक में पीडीपी नेता इस बात का फैसला करेंगे कि पार्टी बीजेपी के साथ गठबंधन को जारी रखेगी या फिर वो उससे अलग रास्ता अख्तियार करेगी.

सईद के निधन के बाद भाजपा-पीडीपी गठबंधन की तरफ से सरकार बनाने की कोई पहल नहीं की गई. इसके बाद आठ जनवरी को राज्य में राज्यपाल शासन लगा दिया गया.  

First published: 17 January 2016, 15:48 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी