Home » इंडिया » Impact of PM Modi, 10 cities of India will be fastest growing cities in the world by 2035
 

2035 तक दुनिया में रहेगा PM मोदी का दबदबा, कर्इ देशों को पछाड़कर भारत के इन शहरों को ले जाएंगे सबसे आगे

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 December 2018, 16:11 IST

ऑक्सफोर्ड इकोनॉमिक्स के सर्वे में भारत के 10 शहर दुनिया के सबसे ज्यादा ग्रोथ करने वाले शहरों में शामिल हुए हैं. साल 2035 तक दुनिया में सबसे तेज ग्रोथ करने वाले शहरों में टॉप 10 भारत के शहर होंगे. ऑक्सफोर्ड इकोनॉमिक्स के रिसर्च के अनुसार, इस लिस्ट में पीएम मोदी के गृहराज्य गुजरात के तीन शहरों को शामिल किया गया है.

रिसर्च की डेटा के अनुसार, गुजरात के सूरत, विजयवाड़ा आैर राजकोट शहर साल 2035 तक दुनिया के सबसे ज्यादा ग्रोथ करने वाले शहरों में होंगे. बता दें कि सूरत गुजरात का एक जाना माना हीरे का व्यापारिक केंद्र है. तब उसकी ग्रोथ दुनिया में सबसे तेज होगी. जो 9 फीसदी से ज्यादा रहने का अनुमान है.

 

रिसर्च के अनुसार, 2035 तक दुनिया के सबसे तेज ग्रोथ करने वाले शहरों में टॉप-10 भारतीय नाम ही होंगे. इन शहरों में सूरत, आगरा, बंगलुरू, हैदराबाद, नागपुर, त्रिपुरा, राजकोट, तिरुचिरापल्ली, चेन्नर्इ, और विजयवाड़ा शामिल हैं. 

लिस्ट में शामिल ज्यादातर शहरों का इकोनॉमिक आउटपुट दुनिया के बड़े महानगरों की तुलना में छोटा रहने का अनुमान लगाया गया है. इन सभी एशियाई शहरों का जीडीपी वर्ष 2027 में सभी उत्तर अमरीकी और यूरोपीय शहरी केंद्रों से अधिक होने का अनुमान लगाया जा रहा है.

 

अनुमान है कि साल 2035 तक ये सभी शहर चीनी शहरों से आने वाले सबसे बड़े योगदान के साथ, 17 फीसदी अधिक रहने के आसार हैं. ऑक्सफोर्ड इकोनॉमिक्स की रिसर्च में यह भी कहा गया कि वर्ष 2035 तक बड़े शहरों की स्थिति में बदलाव होगा. न्यूयॉर्क, टोक्यो, लॉस एंजिलिस अपने स्थानों को बचा पाएंगे और शांघाई एवं बीजिंग पेरिस एवं शिकागो को पीछे छोड़ देंगे.

पढ़ें- OBC समुदाय में बड़ा भेदभाव, मात्र 25 फीसदी जातियां उठा रहीं आरक्षण का 97 फीसदी फायदा

चीन के ग्वांगझू और शेनझेन दुनिया के टॉप 10 शहरों में शुमार हो जाएंगे. वहीं अगर अफ्रीका महाद्वीप की बात करें तो अफ्रीका के सबसे तेज ग्रोथ करने वाले शहरों में तंजानिया शुमार होगा. यूरोप में अरमेनियन की ग्रोथ अच्छी रहेगी. इसके अच्छा उत्तरी अमेरिका के सैन जोस की ग्रोथ बेहतर रहेगी.

First published: 7 December 2018, 16:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी