Home » इंडिया » In bokaro several injured after the attack on Ram Navami procession
 

झारखंड: बोकारो में रामनवमी जुलूस के दौरान हिंसा के बाद कर्फ्यू

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 April 2016, 12:29 IST

झारखंड के कई जिलों में रामनवमी जुलूस के दौरान दो समुदायों के बीच हिंसक झड़प हुई है. बोकारो जिले के माराफारी थाना के सिवनडीह गांव में दो समुदायों के बीच झड़प और पत्थरबाजी में 30 से ज्यादा लोग घायल हो गए. 

जिसके बाद चार थाना इलाकों में कर्फ्यू लगा दिया गया है. झड़प के दौरान बोकारो के कलेक्टर राय महिमापत रे भी मामूली रूप से जख्मी बताए जा रहे हैं.

पढ़ें:झारखंड के लातेहार में दो पशु कारोबारियों की हत्या

हजारीबाग में भी हिंसा, एक की मौत

वहीं हजारीबाग में भी रामनवमी जुलूस पर दो समुदायों के बीच जमकर पथराव हुआ. हिंसक घटना में एक शख्स की मौत हो गई. वहीं आधा दर्जन घर जलकर खाक हो गए हैं.

हज़ारीबाग के एसपी अखिलेश झा ने झड़प के दौरान एक व्यक्ति की मौत की पुष्टि की है. वहीं चतरा जिले के प्रतापपुर ब्लॉक में भी रामनवमी जुलूस के दौरान दो गुटों के बीच जमकर मारपीट हुई. जिसमें सात लोग घायल बताए जा रहे हैं.

पढ़ें:क्या मालदा-कालियाचक की हिंसा हिन्‍दू-मुसलमानों के बीच सांप्रदायिक दंगा था?

कई अफसरों की गाड़ी को नुकसान

उपद्रवियों ने बोकारो विधायक विरंची नारायण, डीएसपी मुख्यालय सुनील कुमार, एसडीओ मंजू रानी स्वांसी की गाड़ियों को नुकसान पहुंचाया. वहीं माराफारी थाने के कई वाहनों को भी क्षतिग्रस्त कर दिया गया.

हिंसा को बेकाबू होते देख जिला प्रशासन ने रात में ही बालीडीह, माराफारी, बीएस सिटी और सेक्टर-12 थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगा दिया है. आला अफसर प्रभावित इलाकों का लगातार दौरा कर रहे हैं.

बताया जा रहा है कि बोकारो में रामनवमी के मौके पर जुलूस निकाला जा रहा था. जो रीतुडीह, बांसगोड़ा, लकड़ीगोला और बारी कोऑपरेटिव कॉलोनी से होकर गुजर रहा था. इसी दौरान दो समुदाय के लोग आमने-सामने हो गए.

पढ़ें:उत्तर प्रदेश में तेज होती सांप्रदायिकता की आंच?


First published: 16 April 2016, 12:29 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी