Home » इंडिया » In Chandigarh case father says, I will fight for justice of my daughter
 

चंडीगढ़ कांड की शिकार लड़की के IAS पिता बोले, ‘हम न्याय के लिए लड़ेंगे’

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 August 2017, 17:10 IST

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की हरियाणा इकाई के अध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे द्वारा एक आईएएस अधिकारी की बेटी का पीछा किए जाने के मामले में रविवार को पीड़िता के पिता ने कहा कि वह न्याय के लिए लड़ेंगे. वहीं हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर उलटे बराला का ही समर्थन करते नजर आए.

चंडीगढ़ पुलिस ने शनिवार को लड़की का पीछा करने के आरोप में सुभाष बराला के बेटे विकास बराला और उसके एक सहयोगी को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ मामला दर्ज किया है.

हरियाणा सरकार में अतिरिक्त मुख्य सचिव स्तर के अधिकारी पीड़िता के पिता ने सोशल मीडिया पर कहा है, "अगर हम दोषी के खिलाफ न्याय की लड़ाई नहीं लड़ते हैं, तो और बेटियों को इसकी सजा भुगतनी होगी."

वहीं खट्टर ने हिसार में पत्रकारों से कहा, "इस मामले का सुभाष बराला से कोई लेना-देना नहीं है. यह एक व्यक्ति से जुड़ा मामला है. अगर आरोप सही साबित होता है, तो यह बेहद निंदनीय है."

खट्टर ने कहा, "मुझे इस बारे में बताया गया. आरोपी अगर दोषी पाया गया तो उसे सजा दी जाएगी. इस मामले पर यह मेरा आधिकारिक पक्ष है." मुख्यमंत्री खट्टर ने कहा कि उन्हें चंडीगढ़ पुलिस में पूरा विश्वास है और न्याय अपना काम करेगी. चंडीगढ़ के पुलिस उप अधीक्षक (पूर्वी) सतीश कुमार ने कहा है कि दोनों आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 354 और 341 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है.

First published: 7 August 2017, 17:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी