Home » इंडिया » in rajasthan: women abusing on the matter of dowry
 

राजस्थान: दहेज लोभियों ने बहू के माथे पर लिखा 'मेरा बाप चोर है'

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 June 2016, 16:51 IST
(एजेंसी)

राजस्थान के अलवर जिले में दहेज लोभियों की करतूत सामने आई है. बताया जा रहा है कि दहेज न मिलने से नाराज एक महिला के माथे पर आपत्तिजनक शब्द लिए दिए.

आरोप है कि ससुराल पक्ष ने उस पर इसलिए यह अमानवीय अत्याचार किया, क्योंकि वह अपने पिता से दहेज में 51 हजार रुपए लेकर नहीं आई.

पहले तो ससुराल वालों ने उसके माथे का सिंदूर मिटाया और फिर उसके माथे लिख दिया, 'मेरा बाप चोर' है. विवाहिता का ससुराल अलवर के राजगढ़ में रैणी इलाके के हैं. जबकि वो जयपुर के आमेर थाना इलाके की है.

जब पीड़ित मामले की रिपोर्ट लिखाने रैणी थाने पहुंची तो पुलिस वालों ने केस दर्ज करने में आनाकानी करते हुए ससुराल वालों के स्थानीय होने का हवाला दिया. जिसके बाद उसने जयपुर के महिला थाने में रिपोर्ट लिखाई है.  

बताया जा रहा है कि ममता (परिवर्तित नाम) की जिंदगी नरक बनाने वाले उससे ससुराल वालों का अत्याचार यहीं पर नहीं थमा. उन्होंने उसके हाथों-पैरों पर भी अश्लील गालियां गुदवा दी हैं.

अलवर के राजगढ़ में ससुराल

पीड़िता ने घटना के बारे में बताया कि उसके पति और तीन जेठों ने उसे कुछ सुंघा कर बेहोश कर दिया. उसके बाद उन लोगों ने उसके हाथ-पैर बांध दिए और मुंह में कपड़ा ठूंस दिया.

ससुराल वालों ने टैटू मशीन से उसके शरीर पर कई जगह गालियां गुदवा दीं. पीड़िता का कहना है कि उसके एक जेठ ने दोनों पैरों पर घुटने से ऊपर चाकू भी गोद दिया था.

जयपुर महिला थाने में केस

ममता के पिता का कहना है कि उन्होंने 14 जनवरी 2015 को बेटी की शादी अलवर के राजगढ़ स्थित रैणी निवासी जग्गू से की थी.

शादी के छह महीने के बाद से लगातार लड़की के ससुराल वाले दहेज के लिए परेशान करने लगे. जह वह बेटी के ससुराल पहुंचे, तब जाकर उन्हें भीषण अत्याचार का पता चला.

उसके बाद वह अपनी बेटी को घर वापस ले आए. बेटी के माथे पर चूना और तेजाब लगाकर लिखी हुई बातों को और हाथों पर मशीन से गुदवाकर लिखावट मिटवा दिया. जयपुर पुलिस मामले की जांच कर रही है.

First published: 27 June 2016, 16:51 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी