Home » इंडिया » In Siachen: After Six days under snow, Indian soldier a lived
 

सियाचिन: भारतीय जवान 25 फुट बर्फ के नीचे 6 दिन बाद मिला जिंदा

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 February 2016, 12:36 IST

सियाचिन में आये भंयकर हिमस्खलन के बाद 25 फुट मोटी बर्फ की परत के नीचे दबे एक सैनिक को सोमवार को जिंदा निकाला गया.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक सेना द्वारा चलाये जा रहे राहत एवं बचाव कार्य के दौरान यह जवान चमत्कारिक रुप से छह दिनों के बाद बर्फ की चादर के नीचे जिंदा मिला. जवान की हालत गंभीर बतायी जा रही हैै.

इस जवान का नाम लांस नायक हनुमानथप्पा बताया जा रहा है, जो फिलहाल वेंटिलेटर पर है. इस जवान को इलाज के लिए एक विशेष विमान से आज दिल्ली लाया जा रहा है.

इस मामले में विदेश राज्य मंत्री वीके सिंह ने ट्वीट किया है कि, 'मुझे आशा है हनुमानथप्पा जल्द ही ठीक हो जाएंगे और फिर से देश की सेवा करेंगे. पूरा देश इस वीर जवान के स्वस्थ होने की कामना कर रहा है. जय हिंद!'.

दूसरी तरफ इस मामले में और जानकारी देते हुए उत्तरी सैन्य कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल डी एस हुड्डा ने बताया कि, ‘भारतीय सेना के द्वारा चलाया जा रहा यह एक चमत्कारिक बचाव अभियान था. सुबह लांस नायक हनुमानथप्पा को दिल्ली स्थित सेना के आर आर अस्पताल ले जाने के लिए सभी प्रयास किये गए'.

लेफ्टिनेंट जनरल हुड्डा ने बताया कि, 'सेना ने अपने इस अभियान में अब तक पांच शवों को बरामद किया है और जिनमें से चार की पहचान हो चुकी है. दुखद है कि हादसे में हताहत अन्य सैनिक हमारे साथ नहीं हैं'.

मालूम हो कि पाकिस्तान से लगी नियंत्रण रेखा के करीब 19 हजार फुट की उंचाई पर स्थित चौकी के हिमस्खलन की चपेट में आने से एक जेसीओ सहित मद्रास रेजिमेंट के नौ अन्य अधिकारी इस हादसे में जिंदा दफन हो गए थे.

First published: 9 February 2016, 12:36 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी