Home » इंडिया » Independence Day 2018: know the unknown facts about national antham Jan Gan Man
 

Independence Day 2018: जानें जन गण मन से जुड़ी ये अहम बातें

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 August 2018, 7:53 IST

हर 15 अगस्त को लाल किले की प्राचीर से स्वतंत्रता दिवस का ये जश्न बड़ी धूम धाम से मनाया जाता है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज आजादी के इस जश्न में लाल किले से देश का तिरंगा फ़हराया, इस उज्जवल तिरंगे को सलामी दी. भारत का राष्ट्रगान रबिन्द्रनाथ टैगोर द्वारा लिखा गया था. संविधान सभा ने ''जन-गण-मन'' को 24 जनवरी 1950 को राष्ट्रगान के रुप में स्वीकार किया था.

राष्ट्रगान को गाने के कुछ नियम हैं. इसे बजाने के लिए भी कुछ नियम हैं. राष्ट्रगान का सम्मान करने के लिए इसको बजाने और गाने के लिए कुछ नियम बनाने गए हैं. इसी के साथ राष्ट्रगान से जुड़े कुछ अहम तथ्य हैं.


1. राष्ट्रगान को पहली बार साल 1911 में कोलकाता में कांग्रेस के एक कार्यक्रम में गाया गया था.

2.राष्ट्रगान जब भी कहीं बजे तो हमेशा सावधान की मुद्रा में खड़े हो जाना चाहिए.

3. राष्ट्रगान का हमेशा सही उच्चारण करना चाहिए.

4. राष्ट्रगान (National Anthem) गाने की अवधि 52 सेकेंड है और इसे 49 से 52 सेकंड के बीच में ही गाया जाना चाहिए.

5. अगर कोई शख्स राष्ट्रगान गाने से रोके तो उसके खिलाफ प्रिवेंशन ऑफ इन्सल्ट टु नेशनल ऑनर एक्ट-1971 की धारा-3 के तहत कार्रवाई की जा सकती है. दोषी पाए जाने पर उस शख्स को तीन साल की जेल और जुर्माना हो सकता है.

Independence Day 2018 : इन देशभक्ति के गानों को सुनकर मनाएं आजादी का जश्न

6. राष्ट्रगान के लिए कभी अपशब्दों का उपयोग नही करना चाहिए.

7. सिनेमाघरों में फिल्म दिखाए जाने से पहले राष्ट्रगान बजाना अनिवार्य नहीं है. हालांकि इसको लेकर काफी विवाद रहा जिसके बाद आज इसकी अनिवार्यता खत्म कर दी गई.

First published: 15 August 2018, 7:53 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी