Home » इंडिया » Independence Day 2018: Why 15th August was chosen as India's Independence Day
 

Independence Day 2019 : स्वतंत्रता दिवस के रूप में 15 अगस्त को ही चुना गया

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 August 2019, 15:50 IST

अंग्रेजों ने भारत पर 200 तक राज किया और इसकी शुरुआत ईस्ट इंडिया कंपनी के साथ लगभग 1765 से हुई थी. 1857 में एक देशव्यापी विद्रोह हुआ, जिसने अंग्रेजी शासन के खिलाफ क्रांति शुरू की. लगातार आंदोलनों के बाद 1947 में अंग्रेजों को हिंदुस्तान छोड़ना पड़ा. हालांकि पाकिस्तान 14 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस मनाता है जबकि भारत 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस मानता है. 1947 में ब्रिटेन की संसद ने भारतीय स्वतंत्रता अधिनियम पारित किया और भारतीय संविधान सभा को विधायी संप्रभुता हस्तांतरित की. इसके बावजूद किंग जॉर्ज VI तब तक प्रमुख बने रहे, जब तक कि यह पूरी तरह से गणतंत्रात्मक संविधान में परिवर्तित नहीं हो गया.

राजगोपालाचारी ने लॉर्ड माउंटबेटन से कहा था ''30 जून 1948 तक अगर इंतजार किया गया तो हस्तांतरित करने के लिए कोई सत्ता ही नहीं बचेगी. इसके बाद ही माउंटबेटन ने 15 अगस्त का दिन चुना था''. जवाहरलाल नेहरू भारत के पहले प्रधानमंत्री थे. उन्होंने दिल्ली में लाल किले के लाहौरी गेट के ऊपर भारतीय राष्ट्रीय ध्वज फहराया. यह बाद में एक प्रथा बन गई और अब प्रत्येक स्वतंत्रता दिवस पर भारतीय प्रधान मंत्री राष्ट्रीय ध्वज फहराते हैं और राष्ट्र को संबोधित करते हैं.

 

1929 में जब जवाहरलाल नेहरू, जो कांग्रेस अध्यक्ष थे, पूर्ण स्वराज का आह्वान किया था, जिसका अर्थ था ब्रिटिश औपनिवेशिक शासन से भारत की पूरी स्वतंत्रता. इससे पहले 26 जनवरी को स्वतंत्रता दिवस के रूप में चुना गया था और 1930 के बाद से कांग्रेस पार्टी ने 26 जनवरी को भारत के स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाना शुरू किया, जब तक कि भारत ने अपनी स्वतंत्रता प्राप्त नहीं कर ली.

26 जनवरी 1950 में को भारत के गणतंत्र दिवस के रूप में चुना गया क्योंकि भारत औपचारिक रूप से एक संप्रभु देश बन गया था और अब ब्रिटिश डोमिनियन के अधीन नहीं था. ब्रिटिश संसद ने भारत के वायसराय लॉर्ड माउंटबेटन को 30 जून 1948 तक भारतीय नेताओं को शासी शक्तियां हस्तांतरित करने की आज्ञा दी. इस साल भारत अपना 73 वां स्वतंत्रता दिवस मनाएगा.

सरकार को डरा रही है बड़ी आर्थिक मंदी, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों को मनाएंगी वित्त मंत्री

First published: 9 August 2019, 14:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी