Home » इंडिया » Independence Day 2020: Central Government is reconsidering the minimum marriage age of girls - PM Modi
 

18 से 21 हो सकती है लड़कियों की शादी की न्यूनतम आयु, PM मोदी ने दिए संकेत

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 August 2020, 12:04 IST

Independence Day 2020 : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत के 74वें स्वतंत्रता दिवस पर राष्ट्र के नाम अपने संबोधन के दौरान कहा कि केंद्र सरकार भारत में लड़कियों की शादी की न्यूनतम आयु पर पुनर्विचार कर रही है. उन्होने कहा “हमने लड़कियों की शादी के लिए न्यूनतम आयु पर पुनर्विचार करने के लिए एक समिति का गठन किया है. समिति जब अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी उसके बाद ही केंद्र सरकार इस पर फैसला लेगी. वर्तमान में भारत में लड़कियों की शादी की कानूनी उम्र 18 वर्ष है. कहा जा रहा है कि इस उम्र को 18 से 21 किया जा सकता है. इसका उद्देश्य मातृ मृत्युदर में कमी लाना है. 

प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में महिला सशक्तीकरण और प्रमुख क्षेत्रों में महिलाओं की उपलब्धियों के बारे में अपनी सरकार के प्रयासों के बारे में भी बात की. पीएम मोदी ने कहा कि अब महिलाओं के पास भारतीय सेना और भारतीय नौसेना में स्थायी रोजगार के अवसर हैं. उन्होंने कहा जब भी महिलाओं को मौका मिला, उन्होंने भारत को गौरवान्वित किया और देश को मजबूत किया. देश अब महिलाओं को स्वरोजगार और रोजगार के समान अवसर प्रदान करने के लिए दृढ़ संकल्पित है. मोदी ने कहा अब महिलाएं भी कोयला खदानों में काम कर रही हैं. हमारी बेटियां फाइटर प्लेन उड़ाकर ऊंचाइयां छू रही हैं.


उन्होंने कहा कि 22 करोड़ से अधिक महिलाओं को उनके जन धन बैंक खातों में पैसा मिला है. साथ ही ग्रामीण भारत की गरीब महिलाओं को सरकार ने लगभग 5 करोड़ सेनेटरी पैड प्रदान किए हैं. प्रदूषण के बारे में बात करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार 100 चयनित शहरों में प्रदूषण को कम करने के लिए एक विशेष परियोजना पर भी काम कर रही है. पीएम ने जल जीवन मिशन के बारे में भी बताया जो सरकार ने पिछले साल लॉन्च किया था. उन्होंने कहा कि इस मिशन के तहत 1 लाख से अधिक घरों में पाइप से जलापूर्ति हो रही है.

ITBP के जवानों ने लद्दाख में पैंगोंग त्सो झील के किनारे 14 हजार फुट की ऊंचाई पर फहराया तिरंगा

पीएम मोदी ने कहा ''आज जो हम स्वतंत्र भारत में सांस ले रहे हैं, उसके पीछे मां भारती के लाखों बेटे-बेटियों का त्याग, बलिदान और मां भारती को आज़ाद कराने के लिए समर्पण है. आज ऐसे सभी स्वतंत्रता सेनानियों का, आज़ादी के वीरों का, वीर शहीदों का नमन करने का ये पर्व है. उन्होंने कहा ''कोरोना के समय में कोरोना वॉरियर्स जैसे- डॉक्टर्स, नर्से, एंबुलेंस कर्मी, सफाई कर्मचारी इत्यादि लोगों को मैं आज नमन करता हूं.''

Independence Day 2020: लाल किले की प्राचीर से PM मोदी के संबोधन की बड़ी बातें यहां पढ़िए

First published: 15 August 2020, 11:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी