Home » इंडिया » Independence Day: The spirit of patriotism wins as UP Police hoisted flag in a submerged police station in Bahraich
 

जय हिंद: बाढ़ की लहरों पर भारी देशभक्ति के जज़्बे का ज्वार

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 August 2017, 12:37 IST
बहराइच ज़िले के बौंडी थाने में ध्वजारोहण कार्यक्रम/ राजस्थान पत्रिका

उत्तर प्रदेश के बहराइच ज़िले में बाढ़ से तबाही मची हुई है. नेपाल के बैराजों से आए लाखों क्यूसेक पानी ने जिले के संपर्क मार्गों को काट दिया है. लाखों की आबादी विस्थापित होकर जहां-तहां ठिकाना लेने को मजबूर है. ऐसे में एक तस्वीर ऐसी आई है, जिसने देशभक्ति के जज्बे को बुलंद किया है.

मंगलवार को देशभर में आजादी की 70वीं सालगिरह मनाई गई. इस मौके पर भारत-नेपाल सीमा से लगे बहराइच जिले से आई अनूठी तस्वीर ने हर हिंदुस्तानी अवाम के लिए मिसाल पेश की है. सोशल मीडिया पर भी ये तस्वीर खूब वायरल हो रही है. 

दरअसल ये पूरा वाकया बौंडी थाने का है. पूरा थाना परिसर बाढ़ के पानी में डूब चुका था. ऐसे में 15 अगस्त पर राष्ट्रध्वज फहराने के लिए पुलिस वालों का हौसले जरा भी नहीं डगमगाया. थाने के सभी कमरों में पानी भरा हुआ था. इसके बावजूद थानाध्यक्ष जेबी सिंह की अगुवाई में सभी पुरुष और महिला कांस्टेबलों ने सैलाब के बीच ड्यूटी के साथ-साथ देशभक्ति का जबरदस्त जज्बा दिखाया. 

पुलिसकर्मियों ने न केवल कमर तक पानी में डूबकर तिरंगा लहराया, बल्कि उन्होंने पूरी लय के साथ खड़े होकर राष्ट्रगान गाते हुए स्वतंत्रता दिवस के कार्यक्रम को पूरी शिद्दत के साथ संपन्न कराया. 

भारत-नेपाल इंटरनेशनल बॉर्डर के पास स्थित बहराइच ज़िला हर साल भीषण बाढ़ की विभीषिका से पस्त रहता है, घाघरा नदी ने इस साल भी यहां विकराल रूप लिया हुआ है. लेकिन जब देशप्रेम का जोश, जुनून और जज्बा परवान पर हो, तो सैलाब के रुख को मोड़ने की ताक़त आ जाती है.

बहराइच जिले के बौंडी थाने के सभी पुलिस कर्मियों के जज्बे को सलाम, जिन्होंने बाढ़ की लहरों के आगे बेबस होने के बजाए अपनी देशभक्ति के जज्बे का ज्वार उफान पर लाते हुए तिरंगे का परचम फहरा दिया.

First published: 16 August 2017, 12:37 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी