Home » इंडिया » India Allowed Visa to 170 Pakistani people For Urs festival
 

दिवाली पर मोदी सरकार ने दिखाया बड़ा दिल, 170 पाकिस्तानियों को दिया VISA

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 November 2018, 10:10 IST

दिवाली के मौके पर भारत ने पाकिस्तान के प्रति नरमी दिखाते हुए 170 पाकिस्तानियों को वीजा देने का फैसला किया है. मौजूदा हालत में दोनों देशों के बीच चल रहे तनावपूर्ण संबंधो के बाद भी दोनों देशों ने धार्मिक पर्यटन के लिए आपसी सहमति बनाई है. गुरुवार को भारत ने 170 पाकिस्तानी श्रद्धालुओं को इस महीने के आखिर में उर्स में शामिल होने के लिए पंजाब आने का वीजा दिया है. हाल ही में तनाव के चलते दोनों देशों के विदेश मंत्रियों के बीच संभावित बैठक रद्द हो गई थी.

लेकिन इसके बाद भी धार्मिक आस्था के मुद्दों पर दोनों देश सौहार्द के साथ चलने के लिए आपसी सहमति बना चुके हैं. गौरतलब है कि 2015 में भारत धार्मिक पर्यटन को पाकिस्तान के साथ संबंध सुधारने के एक तरीके के तौर पर अपनाने पर राजी हुआ था.

इस बार पाकिस्तानी श्रद्धालु पंजाब के सरहिंद इलाके में स्थित 3 तक चलने वाले रौजा शरीफ उर्स में भाग लेने आएंगे. इसी के चलती भारत की तरफ से 170 पाकिस्तानी नागरिकों को वीजा देने पर मुहर लग गयी है. पंजाब में उर्स के मौके पर यह मेला सूफी संत शेख फारुखी की मजार पर लगता है.

भारत ने असल में भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और उनके पाकिस्तानी समकक्ष शाह महमूद कुरैशी की बातचीत रद्द होने के बाद कुछ पाकिस्तानी कैदियों को भी रिहा किया था. बैठक रद्द होने के बावजूद ऐसा लगता है कि दोनों देश मानवीय मुद्दों को लेकर सोच रहे हैं और धार्मिक पर्यटन पर ध्यान दे रहे हैं.

पाकिस्तान को मिला हिंदुस्तान के इस विरोधी देश का साथ, दिवाली पर पाक को मिला बड़ा तोहफा

भारत और पाकिस्तान के बीच करतारपुर कॉरिडोर खोलने को लेकर संयुक्त राष्ट्र महासभा में सुषमा स्वराज और कुरैशी के बीच चर्चा होने की भी संभावना थी. इस मामले में एक ओर जहां पाकिस्तान सरकार का कहना है कि वह इस कॉरिडोर को खोलने पर विचार कर रही थी वहीं भारत ने इस मुद्दे पर साफ किया कि पाकिस्तान की ओर से आधिकारिक रूप से कोई बातचीत नहीं हुई है.

First published: 9 November 2018, 10:10 IST
 
अगली कहानी