Home » इंडिया » india buy 100 drones with eye on china & pakistan
 

भारत सीमा पर चौकसी के लिए खरीद सकता है 100 ड्रोन

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 April 2016, 16:04 IST

भारत अपनी सामरिक ताकत में इजाफा करते हुए पाकिस्तान और चीन से लगी सीमाओं पर चौकसी बढ़ाने के लिए अमेरिका से 100 प्रीडेटर निगरानी ड्रोन खरीदने की तैयारी कर रहा है. भारत को इन ड्रोन्स की कीमत लगभग दो अरब डॉलर पड़ेगी.

अमेरिकी रक्षा मंत्री एश्टन कार्टर के कल यानी 10 अप्रैल के भारत दौरे के दौरान दोनों पक्षों के बीच इस मामले में सहमति बनने की संभावना है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक अमेरिकी सरकार ने पिछले साल भारत को प्रीडेटर एक्सपी बेचने के लिए जनरल ऐटॉमिक्स के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी.

हालांकि अभी यह साफ नहीं है कि ड्रोन की आपूर्ति कब की जाएगी. नौसेना इन्हें हिंद महासागर की निगरानी करने के लिए खरीदना चाहती है.

गौरतलब है कि प्रीडेटर ड्रोन लगातार 35 घंटे तक आकाश में चक्कर लगा सकते हैं. इन्हें इस लिहाज से भी जरूरी माना जा रहा है कि चीन हिंद महासागर क्षेत्र में लगातार जहाजों और पनडुब्बियों की मौजूदगी बढ़ा रहा है.

भारत चीनी सेना के बार-बार घुसपैठ के मद्देनजर भारत इन मानवरहित विमानों के जरिये अपनी सामरिक क्षमता को और बढ़ाना चाहता है.

रक्षा मंत्रालय के मुताबिक इस मामले में एश्टन कॉर्टर और मनोहर पर्रिकर के बीच सफल समझौते की उम्मीद है, लेकिन रक्षा अधिकारियों के मुताबिक इस समझौते से पहले अमेरिका को को 234 देशों के मिसाइल टेक्नोलॉजी रिजीम ग्रुप और यूएस कांग्रेस से भी इजाजत लेनी होगी.

First published: 9 April 2016, 16:04 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी