Home » इंडिया » India China Face off: Firing between Indian and Chinese Soldiers on LAC in Shenpao mountain
 

LAC पर और बढ़ा तनाव, भारत और चीन के सैनिकों के बीच गोलीबारी की खबर

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 September 2020, 7:28 IST

पूर्वी सीमा (Eastern Border) पर भारत और चीन (India-China) के बीच लगातार हालात खराब होते जा रहे हैं. करीब पिछले तीन महीने से लद्दाख में (Ladakh) भारत और चीन के बीच शुरु हुआ तनाव (India-China Border Tension) तमाम कोशिशों के बावजूद कम नहीं हुआ. अब एक बार फिर से सोमवार देर रात पैंगॉन्ग त्सो (Pangong Tso) झील पर वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के पास भारत और चीन के सैनिकों में गोलीबारी की खबर सामने आई है. चीन की सरकारी मीडिया 'ग्लोबल टाइम्स' ने भारतीय सैनिकों पर पैंगॉन्ग त्सो के दक्षिणी किनारे पर फायरिंग करने का आरोप लगाया है.

वहीं सेना से जुड़े सूत्रों का कहना है कि चीन की ओर से भारतीय क्षेत्र में पहले फायरिंग की गई, जिसके बाद भारत की तरफ से जवाबी कार्रवाई के लिए गोलीबारी की गई. हालांकि एलएसी पर फिलहाल स्थिति नियंत्रण में होने का दावा किया गया है. बता दें कि खास बात यह है कि 1975 के बाद भारत-चीन सीमा पर भारत और चीन के सैनिकों के बीच इस तरह से पहली बार गोलीबारी हुई है. चीनी रक्षा मंत्रालय, चीनी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के वेस्टर्न थियेटर कमान के प्रवक्ता कर्नल झांग शुइली की ओर से एलएसी पर ताजा हालात को लेकर भी बयान जारी किया गया है.


कंगना विवाद में बदले संजय राउत के सुर, बोले- शिवसेना हिंदुत्व की पार्टी, महिलाओं के सम्मान के लिए लड़ेंगे

जिसमें कहा गया है कि भारतीय सैनिकों की ओर से कथित 'उकसावे' की कार्रवाई की गई, जिससे चीनी सैनिकों की ओर से जवाबी कार्रवाई की गई. ग्लोबल टाइम्स का कहना है कि भारतीय सैनिकों ने सोमवार को पैंगॉन्ग त्सो के दक्षिणी किनारे पर घुसपैठ करने की कोशिश की. इस दौरान जब चीनी सेना की पेट्रोलिंग पार्टी भारतीय जवानों से बातचीत करने के लिए आगे बढ़ी तो उन्होंने जवाब में वॉर्निंग शॉट फायर कर दिए. चीनी सेना के प्रवक्ता ने कहा, चीनी सीमा रक्षकों को हालात को काबू में करने के लिए जवाबी कार्रवाई करने पर मजबूर होना पड़ा.' हालांकि भारत की ओर से अभी तक इसे लेकर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई है.

400 पाकिस्तानी आतंकी भारतीय सीमा में घुसने की फिराक में, खुफिया एजेंसियों की रिपोर्ट में जानकारी

 

दिल्ली से अहमदाबाद जाने वाली राजधानी एक्सप्रेस में 20 यात्री निकले कोरोना संक्रमित, मचा हड़कंप

सेना के सूत्रों का कहना है कि 'वार्निंग शॉट्स' फायर किए गए थे. उनका कहना है कि चीन की नजर हमारे ब्लैक टॉप और हेल्मेट टॉप पर है. सीमा पर तैनात जवान तब से हाई अलर्ट पर हैं, जब से चीन की ओर से इन दोनों चोटियों पर कब्जा करने की कोशिश की है. हमारे जवानों ने इन दोनों चोटियों को पूरी तरह से नियंत्रण में ले रखा है. इससे खिसिआए चीनी सैनिक इन दोनों चोटियों पर नियंत्रण हासिल करने के लिए आगे बढ़ रहे हैं. बता दें कि 29-30 अगस्त की रात चीन की साजिशों को नाकाम करते हुए भारतीय सेना ने पैंगॉन्ग त्सो झील के दक्षिणी हिस्से में मौजूद एक अहम चोटी पर वापस कब्जा कर लिया था. यह रणनीतिक रूप से काफी अहम मानी जाती है. यहां से चीनी सैनिक कुछ मीटर की दूरी पर ही हैं.

17 साल की लड़की को सवा लाख में आर्केस्ट्रा चलाने वाले को बेचा, दिल्ली महिला आयोग ने किया रेस्क्यू

First published: 8 September 2020, 7:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी