Home » इंडिया » India China Face Off: India paused 3 chinese projects worth 5000 crore rupees in Maharashtra
 

भारत ने चीन को दिया बहुत बड़ा झटका, 5000 करोड़ रुपये की परियोजनाओं पर लगाई रोक

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 June 2020, 19:10 IST

India-China Face Off: भारत और चीन की सेना के बीच 15-16 जून की रात हिंसक झड़प में 20 भारतीय जवान शहीद हो गए थे. इसके बाद भारत में चीन के खिलाफ गुस्सा व्याप्त है. इसी क्रम में भारत ने चीन को एक बहुत बड़ा झटका दिया है. भारत ने महाराष्ट्र में 5000 करोड़ रुपये से ज्यादा की चीनी परियोजना पर रोक लगा दी है. 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार महाराष्ट्र सरकार ने चीनी कंपनियों के साथ हुए 5,000 करोड़ रुपये से ज्यादा की तीन परियोजनाओं के करार पर रोक लगाई है. महाराष्ट्र सरकार के उद्योग मंत्री ने जानकारी दी कि केंद्र सरकार से विचार करने के बाद राज्य सरकार ने यह फैसला लिया है. उन्होंने बताया कि तीन चीनी परियोजनाओं को रोक दिया गया है.

चीनी कंपनियों की इन परियोजनाओं को मैग्नेटिक महाराष्ट्र 2.0 निवेशक सम्मेलन में चुना गया था. इस परियोजना पर हस्ताक्षर कुछ ही दिन पहले किए गए थे. परियोजना के तहत 5,000 करोड़ रुपये से ज्यादा निवेश का प्रस्ताव था. पिछले सोमवार को इस सम्मेलन का आयोजन किया गया था. आयोजन में चीनी राजदूत सन वेईडोंग भी शामिल हुए थे.

चीन की अब खैर नहीं, भारत ने लद्दाख में तैनात की माउंटेन फोर्स, कारगिल में टिक नहीं पाया था पाकिस्तान

सम्मेलन में चीन, दक्षिण कोरिया, सिंगापुर तथा अमेरिका देशों की कंपनियों के साथ दर्जन भर करार किए गए थे. इनमें से तीन कंपनियां चीन की थीं. इसमें हेंगली इंजीनियरिंग के साथ 250 करोड़ रुपये, ग्रेट वॉल मोटर्स के साथ 3,770 करोड़ रुपये तथा पीएमआई इलेक्ट्रो मोबिलिटी के साथ 1,000 करोड़ु रुपये की परियोजना का प्रस्ताव था.

बता दें कि चीन से झड़प के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने एक सर्वदलीय बैठक बुलाई थी. इसमें पीएम मोदी ने कहा था कि भारत की एक भी इंच जमीन किसी ने नहीं कब्जा की है.

चीनी सेना से झड़प में शहीद कर्नल संतोष बाबू की पत्नी बनीं डिप्टी कलक्टर, सरकार ने दिए 5 करोड़

इस्लामिक देशों का संगठन OIC हुआ भारत के खिलाफ ! जम्मू-कश्मीर पर बुलाई आपात बैठक

First published: 22 June 2020, 19:10 IST
 
अगली कहानी