Home » इंडिया » India exports Pakistan anti rabies anti venom vaccines over usd 36 million
 

कंगाल पाकिस्तान में बीमारी से तड़पकर मर रहे बच्चे, भारत को आया तरस, भेजी 2.5 अरब की दवाईयां

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 July 2019, 15:17 IST

पाकिस्तान इन दिनों गंभीर परिस्थितियों से जूझ रहा है. पाकिस्तान में महंगाई चरम पर है. आलम यह है कि वहां के लोग भूखों मरने पर विवश हैं. खबर आ रही है कि पाकिस्तान में इन दिनों लोग गंभीर बीमारियों से जूझ रहे हैं. बच्चे बीमार होकर तड़प-तड़पकर मर रहे हैं लेकिन उन्हें दवाईयां नहीं मिल रही हैं.

भारत ने तरस खाकर पाकिस्तान को 3 करोड़ 60 लाख डॉलर की जरूरी दवाईयां भेजी हैं. यानि कि लगभग ढाई अरब रुपये की दवाईयां भेजी हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, भारत ने पाकिस्तान पर तरस खाकर कुत्ते काटने के इलाज के लिए इस्तेमाल होने वाली रैबीजरोधी और सांप के जहर से निपटने वाली वैक्सीन बेची है.

इस तरह भारत ने पिछले 16 महीने में करीब 2.56 अरब पाकिस्तानी रुपये की दवाएं पाकिस्तान भेजी हैं. दरअसल, मौजूदा समय में पाकिस्तान भारी कर्ज के नीचे दबा हुआ है. पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था बर्बाद हो चुकी है. पैसे की कमजोरी के चलते वह विदेशों से सामान खरीदने के लायक नहीं बचा है. जिस कारण वहां महंगाई सातवें आसमान पर पहुंच गई है और बेरोजगारी भी तेजी से बढ़ रही है.

पाकिस्तान के राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान के पास सांप और कुत्ते के काटने से बचाव के लिए दवाइयों की जितनी मांग है उसके अनुरूप इन्हें बनाने की क्षमता नहीं है. 'द नेशन' की रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले 16 महीने में पाकिस्तान ने भारत से 2.56 अरब पाकिस्तानी रुपये मूल्य की रैबीजरोधी और सांप विषरोधी वैक्सीन मंगवाई है.

इमरान खान अपने देशवासियों से पहले भी कह चुके हैं कि सरकार के पास देश को चलाने के लिए पैसे नहीं है. इसी कड़ी में इमरान खान अमेरिका के दौरे पर गए थे. जहां उन्होंने वहां के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात की थी. माना जा रहा है कि वह कर्ज को लेकर अमेरिका के दौरे पर पहुंचे थे.

कर्नाटक: येदियुरप्पा भले ही फिर से बन जाएं मुख्यमंत्री, लेकिन आसान नहीं है आगे की राह

First published: 26 July 2019, 15:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी