Home » इंडिया » india-russia Fifth Generation Fighter Aircraft FGFA deal has been formally buried
 

क्या भारत और रूस का मिलकर '5th जनरेशन फाइटर जेट' बनाने का सपना टूट गया ?

सुनील रावत | Updated on: 20 April 2018, 16:36 IST

भारत और रूस का संयुक्त रूप से (फिफ्थ जनरेशन फाइटर जेट) एफजीएफए का प्रस्ताव फ़िलहाल ठन्डे बस्ते में चला गया है. बिजनेस स्टैंडर्ड की रिपोर्ट के अनुसार राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने फरवरी के अंत में एक रक्षा अधिग्रहण बैठक में रूसी मंत्रिस्तरीय प्रतिनिधिमंडल के फैसले को बताया. बैठक में भाग लेने वाले अजित डोभाल और रक्षा सचिव संजय मित्रा ने बताया कि रूस ने पांचवीं पीढ़ी के लड़ाकू विमान विकसित करने पर अकेले आगे बढ़ने का फैसला किया है.

सूत्रों के मुताबिक भारतीय वायुसेना को लग रहा है कि यह सौदा बहुत ही महंगा है, क्योंकि चार प्रोटोटाइप लड़ाकू विमानों पर करीब छह अरब डॉलर की लागत आएगी. हालांकि अक्टूबर 2017 में हिन्दुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) के अध्यक्ष टी. सुवर्ण राजू ने भारत और रूस के एफजीएफए कार्यक्रम का समर्थन किया था. उनका कहना था कि इससे देसी प्रौद्योगिकी विकसित करने का मौका मिलेगा.

 

गौरतलब है कि भारत और रूस 2007 से एफजीएफए पर चर्चा कर रहे हैं. जब भारत और रूस इस समझौते पर सहमत हुए थे तक हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स (एचएएल) और रूस के सुखोई डिजाइन ब्यूरो (सुखोई) में इस पर साथ काम करने की बात हुई थी. 

रूस के साथ वार्ता में प्रत्यक्ष भूमिका निभाने वाले रक्षा मंत्रालय के सूत्रों का कहना है कि 127 एफजीएफए के निर्माण के लिए भारतीय उत्पादन सुविधाओं के लिए यह पैसा बहुत अधिक था. अब भारतीय वायुसेना एफजीएफए से पीछे हट गई है एयरोस्पेस विश्लेषकों जो पीएके-एफए का समर्थन करते हैं, इस तर्क को खारिज करते हैं.

इससे पहले संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) के रक्षा मंत्री ए के एंटनी ने अमेरिकी एफ-35 लाइटनिंग खरीदने से इंकार कर दिया था और तर्क दिया था कि भारत पांचवीं पीढ़ी के लड़ाकू जरूरतों को पूरा करने के लिए एफजीएफए करेगा. जबकि भारतीय एयरोस्पेस डिजाइनर ने स्वदेशी पांचवीं पीढ़ी के उन्नत लड़ाकू विमान (एएमसीए) को विकसित करने के लिए एफजीएफए को महत्व दिया था. यह कहा गया कि रूसी विशेषज्ञों के साथ काम करने से प्राप्त तकनीकी विशेषज्ञता एएमसीए परियोजना को लाभान्वित करेगी.

First published: 20 April 2018, 16:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी