Home » इंडिया » India to enter in high speed internet era as ISRO going to launch three new satellites in June onwards
 

हाईस्पीड इंटरनेट कनेक्टिविटी के लिए ISRO लॉन्च करेगा तीन नए सैटेलाइट्स

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 May 2017, 18:44 IST

पिछले साल इंटरनेट यूजर्स के मामले में भारत, अमेरिका को पछाड़कर चीन के बाद दूसरे नंबर पर पहुंच गया था, लेकिन फिर भी इंटरनेट स्पीड के मामले में अभी भी यह एशिया के कई मुल्कों से पीछे है. लेकिन अगले डेढ़ वर्षों में यह स्थिति बदलने वाली है क्योंकि इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गनाइजेशन (ISRO) तीन नए कम्यूनिकेशन सैटेलाइट्स लॉन्च करने वाली है जिनसे देश को हाईस्पीड इंटरनेट कनेक्टिविटी मिल सके.

इस संबंध में ISRO के चेयरमैन किरण कुमार ने मीडिया को बताया, "जून और इसके बाद हम तीन कम्यूनिकेशन सैटेलाइट लॉन्च करेंगे. यह सैटेलाइट्स कई स्पॉट बीम्स (एक विशेषरूप का ट्रांसपॉन्डर जो हाई फ्रीक्वेंसी पर काम करता है) का इस्तेमाल करेंगे जिनसे इंटरनेट स्पीड और कनेक्टिविटी बढ़ेगी और यह मल्टीपल स्पॉट बीम्स पूरे देश को को कवर करेंगे."

बता दें कि स्पॉट बीम एक विशेषरूप से केंद्रित (सैटेलाइट पर लगा एक हाई-गेन एंटीना) सैटेलाइट सिग्नल है जो पृथ्वी पर एक सीमित भौगोलिक क्षेत्र को कवर करता है.

 

यह स्पॉट बीम जितनी नैरो (सीमित-संकरी) होगी, उतनी ही ज्यादा ताकतवर होगी. यह तीन सैटेलाइट्स इन बीम्स (सिग्नल) छोटे क्षेत्रों में कई बार दोबारा इस्तेमाल करेंगे. वहीं, इससे उलट मौजूदा सैटेलाइट टेक्नोलॉजी अभी एक ब्रॉड (चौड़ी) बीम का इस्तेमाल करते हैं जिनसे ज्यादा बड़ा क्षेत्र कवर होता है.

एक बार शुरू होने पर यह नए सैटेलाइट्स हाई क्वॉलिटी इंटरनेट, फोन और वीडियो सर्विसेज मुहैया कराने की क्षमता रखेंगे. जहां पहले भेजे गए जीसैट सैटेलाइट की डाटा क्षमता एक गीगाबाइट प्रति सेकेंड की थी, इस नए सैटेलाइट की क्षमता चार गुना ज्यादा होगी. यह मौजूदा चार सैटेलाइट्स के बराबर होगा.

इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक जून तक भारत में इंटरनेट यूजर्स की संख्या के 45 से 46.60 करोड़ तक पहुंचने की संभावना है और यह दिसंबर 2016 में 43.20 करोड़ थी. हालांकि भारत में औसत इंटरनेट कनेक्शन स्पीड 4.1 Mbps की है और दुनिया के सबसे तेज इंटरनेट कनेक्टिविटी वाले मुल्कों में इसका 105वां स्थान है.

First published: 21 May 2017, 18:44 IST
 
अगली कहानी