Home » इंडिया » India to pay Rs 74,000 for damages caused at Commonwealth Games 2018 village in Gold Coast, Australia
 

शर्मनाक: कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स 2018 में हुई हरकत ने हर भारतीय का सिर झुका दिया है

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 July 2018, 12:04 IST

भारत को दुनिया भर में शर्मनाक स्थिति का सामना करना पड़ रहा है. इसकी वजह जानकर आप भी हैरान हो जाएंगे. दरअसल कॉमलवेल्थ गेम्स 2018 के आयोजनकर्ताओं के भारतीय ओलपिंक संघ(आईओए) पर भारी जुर्माना लगाया है. ये जुर्माना साल 2018 में ऑस्ट्रेलिया में आयोजित कॉंमनवेल्थ गेम्स में नुकसान पहुंचाने के लिए लगाया गया है.

आयोजनकर्ताओं ने आईओए से करीब 74,000 रुपये जमा करने को कहा है. इसके बाद भारतीय ओलपिंक संघ ने विभिन्न फेडरोशनों से उनके नुकसान की भरपाई करने को कहा है. IOA ने देश की अलग-अलग फेडरेशनों से 59,662 रुपये जमा करने को कहा. 

आईएओ के अध्यक्ष नरेंद्र बत्रा ने महासचिव को एक ईमेल भेजा है. बत्रा ने महासचिव से कहा कि वो नेशनल स्पोर्ट्स फेडरेशन (NSF) से खेलों में नुकसान की भरपाई के लिए रकम वसूलें. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि वो खिलाड़ियों को सख्त चेतावनी दें कि भविष्य में दोबारा ऐसी शर्मनाक हरकत ना दोहराई जाए. 

ईमेल में आगे लिखा गया, ‘मैं मजबूती से सिफारिश करता हूं कि सीडब्ल्यूजी द्वारा आईओए के खाते में लिए पैसे वसूले जाएं. इसके अलावा जिम्मेदार एथलीट और सहयोगी स्टाफ को आगाह करें कि भविष्य में ऐसी गलतियां दोबारा ना करें.’ एसी गतिविधियों से देश का नाम खराब होगा, इसलिए NSF को अपने खिलाड़ियों को बताएं कि भविष्य में वो ऐसी गलतियां ना करें।. साथ ही सभी खिलाड़ी एशियन गेम्स पर अपना ध्यान लगाएं. खिलाड़ी भविष्य में होने वाले सभी खेलों में बेहतर करने की कोशिश पर ध्यान दें."

नरेंदर बत्रा की तरफ से महासचिव को लिखे ईमेल में कॉमनवेल्थ गांव में कमरे की संख्या और दोषी एथिलीटों का ब्यौरा भी दिया है, जहां से नुकसान पहुंचाया गया. इसमें आठ खेलों के आठ एथीलीट शामिल है जिन्होंने अनुशासन तोड़कर ये करतूत की. नुकसान पहुंचाने वाले ये खिलाड़ी स्क्वैश, पैरा-एथलेटिक्स, टेबल टेनिस, शूटिंग, बास्केटबाल, एथलेटिक्स, वेटलिफ्टिंग और हॉकी के हैं. इन सभी को अलग अलग जुर्माना भरने को कहा गया है.

First published: 28 July 2018, 12:04 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी