Home » इंडिया » Indian army may carry out surgical strike once again, Pakistan's Pm Imran might be mute spectator
 

पाकिस्तान को फिर लगेगा 'सर्जिकल स्ट्राइक' वाला थप्पड़, पछताने के अलावा कुछ नहीं कर सकते पीएम इमरान!

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 December 2018, 17:55 IST

बार-बार मुंह की खाने के बाद भी पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आता है. पाकिस्तानी सेना लगातार सीजफायर का उल्लंघन करती है अभी कल यानि शनिवार को फिर पलावालां सेक्टर में भारतीय चौकियों को निशाना बनाकर गोले दागे जिसका भारतीय सेना ने भी मुंहतोड़ जवाब देते हुए पाकिस्तान के दो पोस्ट तबाह कर दिए.

 

दोबारा सर्जिकल स्ट्राइक करने से नहीं हिचकेंगे

कल की घटना के बाद उप-सेना प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल देवराज अन्बु ने कहा है कि अगर जरूरत पड़ी, तो सेना एक और सर्जिकल स्ट्राइक करने से नहीं हिचकेगी. भारतीय सैन्य अकादमी (एनडीए) की पासिंग आउट परेड की सलामी लेने के बाद लेफ्टिनेंट जनरल ने मीडिया कर्मियों से बातचीत यह बात कही. देवराज अन्बु ने कहा, ‘'हमारी सेना सीमा पार आतंकी ठिकानों पर सर्जिकल स्ट्राइक कर अपनी ताकत और शौर्य का अहसास पहले ही करा चुकी है. अगर दुश्मन ने हमें चुनौती दी, तो हम दोबारा ऐसा करने से बिलकुल नहीं हिचकेंगे.’'

ये भी पढ़ें- ईशा अंबानी की शादी से आम लोगों को होगा बड़ा फायदा, देश की अर्थव्यवस्था पर भी पड़ेगा ये असर

गौरतलब है कि भारतीय थलसेना की उत्तरी कमान के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने शनिवार को कहा कि 29 सितंबर 2016 का सर्जिकल स्ट्राइक, लाइन ऑफ कंट्रोल के पास पाकिस्तान के दुस्साहस को रोकने के लिए एक कामयाब रणनीतिक अभियान था और उसे करारा तमाचा भी.

उन्होंने आगे कहा कि सैन्य नजरिए से देखें तो यह सफल रणनीतिक अभियान था, जिससे बड़ा रणनीतिक संदेश गया और भारतीय सेना पाकिस्तान को साफ तौर पर संदेश देने में सफल रही कि यदि उसने एलओसी के पास दुस्साहस भरे कदम उठाने बंद नहीं किए तो उसे करारा जवाब दिया जाएगा.

First published: 9 December 2018, 17:55 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी