Home » इंडिया » Indian army recovered AK 47, hand grenade, and explosives,might be a planning for terrorist attack on india
 

जम्मू-कश्मीर: भारत में आतंकी कर रहे बड़े हमले की तैयारी, भारी मात्रा में AK-47 बरामद

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 August 2018, 12:09 IST

जम्मू कश्मीर में सेना ने आतंकियों के भारत पर हमले की साजिश का खुलासा किया है. सेना ने कुछ आतंकी ठिकानों का पता लगया है जहां पर भारत पर हमला करने के लिए हथियार इकट्ठा किये जा रहे थे. सेना ने आतंकियों के पास से भारी मात्रा में गोला बारूद, एके 47, हैंड ग्रेनेड और बम बरामद किये गए हैं. सूत्रों के अनुसार इन हथियारों का इस्तेमाल भारत पर बड़ा आतंकी हमला करने के लिए किया जाना था. 

जम्मू कश्मीर में सेना को एक बड़ी सफलता हासिल हुई है. सर्च ऑपरेशन के चलते सेना ने 401 कारतूस, सात विस्फोटक, 14 ग्रेनेड और विस्फोटक सामग्री के साथ भारी मात्रा में हथियार बरामद किये. रक्षा प्रवक्ता के अनुसार मंडी तहसील में सर्च ऑपरेशन के चलते इतनी भारी मात्रा में हथियारों को बरामद किया गया.

इसी के साथ 9 एमएम की चार पिस्तौल, इसकी सात मैगजीन और 31 कारतूस, एक एके-56 राइफल और तीन भरी हुई मैगजीन, एक विदेशी 7.62 एमएम की राइफल, एक रिवाल्वर, 14 हथगोले और एके-47 का एक बैनट बरामद हुआ है.

ऐसा पहली बार नहीं हुआ है जब जम्मू से सेना ने ऐसी किसी सामग्री को पकड़ा हो. इसके पहले भी आतंकियों के ठिकाने के बारे में पता चलने के बाद चार हथियार, 23 विस्फोटक उपकरणों और बड़ी मात्रा में गोला-बारूद जब्त किए गए थे. 

ये भी पढ़ें-  कश्मीर: अनुच्छेद 35A पर टली सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई, अब 27 अगस्त को होगी सुनवाई

इस मामले  में एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि 58 राष्ट्रीय राइफल्स के जवान और पुलिस के द्वारा एक सर्च ऑपरेशन शुरू किया गया. इस अभियान के चलते कुछ आतंकी ठिकानों का पता लगाया गया. और वहां से इस तरह के खतरनाक हथियार बरामद किये गए. एक एके -47 राइफल , 303 राइफल , 7.36 एमएम का एक पिस्तौल और अंडर बैरल ग्रेनेड लांचर (यूबीजीएल) को इस ठिकाने से पुलिस ने जब्त कर अपनी हिरासत में ले लिया. उन्होंने एके राइफल की एक मैगजीन , .303 राइफल की एक मैगजीन और छह राउंड गोलियों के साथ एक पिस्तौल की मैगजीन भी जब्त की थी.

ये भी पढ़ें- जम्मू-कश्मीर: धारा 35A पर SC में सुनवाई के विरोध में घाटी बंद, क्या हट जाएगा कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा?

ऐसा अनुमान है कि आतंकी इस बड़ी मात्रा में हथियारों को इकट्ठा क्र रहे थे, ताकि किसी बड़े हमले को अंजाम दिया जा सके. खुफिया एजेंसियों ने पहले भी आतंकियों की अमरनाथ यात्रा पर हमले की तैयारी के बारे में अंदेशा जताया था. जिसके बाद सेना के सुरक्षा की तैयारी और पुख्ता कर ली. और इसी के चलते इस सर्च ऑपरेशन के तहत इन हथियारों को बरामद किया गया है.

ये भी पढ़ें- जम्मू-कश्मीर: मां की गुहार से पिघले आतंकी, अगवा SPO को छोड़ा बाकियों को दी नौकरी छोड़ने की धमकी

First published: 10 August 2018, 8:23 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी