Home » इंडिया » indian army rejects to modi goverment 'Make in India' Assault Rifle.
 

मोदी के ‘मेक इन इंडिया’ असॉल्ट राइफल को आर्मी ने किया रिजेक्ट

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 June 2017, 13:11 IST

धानमंत्री नरेंद्र मोदी के 'मेक इन इंडिया' मुहिम को भारतीय सेना ने बड़ा झटका दिया है. इंडियन आर्मी ने 'मेक इन इंडिया' प्रोजेक्ट के तहत देश में बनी असॉल्ट राइफल एक्स-कैलिबर को रिजेक्ट कर दिया है. आर्मी ने पिछले साल भी भारत में बने 5.56 एमएम की एक्सकैलिबर बंदूकें स्वीकार करने से इनकार कर दिया था. आर्मी ने दलील दी थी कि ये राइफलें उसकी कसौटी पर खरी नहीं उतरती है.

न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, राइफल फैक्ट्री इशापुर की ओर से बनाई गई 7.62X51 एमएम की बंदूकों का पिछले हफ्ते टेस्ट किया गया था. लेकिन यह राइफल्स फायरिंग टेस्ट में बुरी तरह फेल रही. इसके बाद आर्मी ने इन राइफलों को खारिज करने का फैसला किया. 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस असॉल्ट राइफल में कुछ कमियां हैं, जैसे कि यह तेजी से झटका देती है. इसके अलावा तेज आवाज़ और चमक भी इसमें एक समस्या है. 

7.62X51 एमएम असॉल्ट राइफल का इस्तेमाल एके-47 और इंसास की जगह किया जाना था. फिलहाल एके-47 और इंसास इंडियन आर्मी द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले बेसिक हथियार हैं. दरअसल भारतीय सेना अभी 70 फीसदी हथियार विदेशों से आयात करती है. मोदी सरकार ने सेना के आधुनिकीकरण पर अगले एक दशक में लगभग 250 अरब डॉलर खर्च करने का लक्ष्य तय किया है.

First published: 22 June 2017, 13:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी