Home » इंडिया » Indian Army reveals the truth of terrorist encounter and viral video of dragging dead bodies of terrorist
 

आतंकियों के शव को रस्सी से घसीटने के पीछे है ये बड़ी वजह, सेना के अधिकारी ने किया खुलासा

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 September 2018, 9:38 IST
(File Photo)

देश में दहशत फैलाने के इरादे से घुसपैठ करने वाले आतंकियों को सेना ने  मार गिराया. हाल ही में सेना का एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें सेना के जवान जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादी के शव को रस्सियों से बांध कर घसीटते हुए ले जा रहे हैं. इस वीडियो के वायरल होने पर काफी विवाद शुरू हो गया. कुछ लोग तो इसे आतंकियों के साथ सही सलूक बता रहे हैं, तो वहीं कुछ लोग इसे मानवाधिकार का उल्लंघन बता रहे हैं.

इस मामले में भारतीय सेना के एक बड़े अधिकारी ने सेना का पक्ष रखा. सेना के दक्षिण पश्चिम कमांड के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल चेरिश मेथसन ने बताया कि आतंकी के शव को इस तरह से घसीट कर ले जाना सेना की एक प्रक्रिया के तहत किया गया. ऐसा इसलिए किया जाता है जिससे कि आतंकी के शरीर से बंधे किसी भी प्रकार के विस्फोटकों से बचा जा सके.

चेरिश मेथसन ने इस मामले में संवाददाताओं से कहा, "आतंकी अपने शरीर से विस्फोटक (आईईडी) व ग्रेनेड बांध लेते हैं. सैनिक जब उनके शवों को उठाते हैं तो उनके लिए हमेशा खतरा बना रहता है. आतंकियों के शवों को रस्सी से बांध कर ले जाना सेना की एक प्रक्रिया थी, ताकि उन पर बंधे विस्फोटक सामग्री में विस्फोट की घटना में बचाव हो सके."

 सेना ने मार गिराए दो आतंकी, गांव वालों ने बताया भूखे टंकियों ने घर में घुस आकर लूटे सेब और बिस्किट

First published: 16 September 2018, 9:38 IST
 
अगली कहानी