Home » इंडिया » Indian diplomats in are harassed in Pakistan, internet services blocked
 

पाकिस्तान में भारतीय अधिकारियों को किया जा रहा है प्रताड़ित, डराने-धमकाने के लिए घर में हुई घुसपैठ

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 December 2018, 12:10 IST

एक तरफ शांति का राग अलापता पाकिस्तान बार-बार अपना दोहरा चरित्र दिखा रहा है. अब पाकिस्तान में भारतीय राजनयिकों को प्रताड़ित (हैरैसमेंट) करने की खबर आ रही है. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक़ भारतीय राजनयिकों को वहां गैस कनेक्शन को लेकर परेशानी उठानी पड़ रही है. इतना ही नहीं इसके साथ ही इन भारतीय राजनयिकों के मेहमानों को भी परेशान किया जा रहा है. खबर के अनुसार पाकिस्तान में कुछ वरिष्ठ अधिकारियों के इंटरनेट कनेक्शन को भी बाधित कर दिया गया है.

बात यहीं नहीं खत्म होती पाकिस्तान में भारत के अधिकारी के घर में किसी अनजान व्यक्ति ने घुसपैठ की भी कोशिश की है. भारतीय अधिकारियों को इस तरह से हो रही परेशानी के लिए भारत ने इस मामले को पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के सामने रखा है.

गौरतलब है कि इसी साल के मार्च महीने में भारत ने पाकिस्तान के इस्लामाबाद स्थित अपने उच्चायोग के जरिए पाक को एक 'नोट वर्बेल'(राजनयिक संवाद) जारी किया था. इस राजनयिक नोट का माध्यम से भारत के उच्चायोग के अधिकारी और कर्मचारियों को 'डराने- धमकाने और परेशान करने' के खिलाफ अपना विरोध दर्ज किया था.

ध्यान देने की बात ये है कि इस तरह का नोट तीन महीनों में 12वीं बार जारी किया गया था. सूत्रों की मानें तो पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय को इस तरह का राजनयिक नोट भेजते समय इसमें भारतीय अधिकारियों को परेशान करने की दो घटनाओं का स्पष्ट विवरण था. जिसमें एक 15 मार्च को हुई घटना का भी जिक्र था.

जिन्ना हाउस पर कब्जे को लेकर पाकिस्तान ने दिखाए तेवर, बोला- नरमी का फायदा न उठाए भारत

 

पाकिस्तान की आर्थिक मदद के सहारे भारत को घेरने की तैयारी में हैं चीन !

गौरतलब है कि पूर्व में भी भारतीय राजनयिकों को अप्रैल में सिख श्रद्धालुओं से मिलने की इजाजत न मिलने की भी कड़ा विरोध किया गया था. वहीं हाल ही में पाकिस्तान मुंबई स्थित जिन्ना हाउस पर भी अपना दावा कर रहा है. इस मामले में पाकिस्तान की तरफ से बयान जारी हुआ था जिसमें कहा गया था कि भारत करतारपुर कॉरिडोर पर नरमी का फायदा न उठाए.

First published: 22 December 2018, 12:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी