Home » इंडिया » Indian railway IRCTC hiked the food price of Rajdhani Shatabdi and Duronto Trains fare also increased
 

ट्रेन से सफर करने वालों के लिए बड़ी खबर, इन ट्रेनों में बढ़ेगी खाने की कीमत और किराया होगा महंगा

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 November 2019, 12:36 IST

ट्रेनों में मिलने वाले खाने की कीमतों में भारतीय रेलवे ने इजाफा कर दिया है. हालांकि, खाने की ये कीमतें राजधानी, शताब्दी और दुरंतों ट्रेनों में बढ़ाई गई हैं. जो अगले साल 29 मार्च से प्रभावी हो जाएंगी. यही नहीं अगर इन ट्रेनों में सफर करने वाले यात्री अगर टिकट कराने के दौरान भोजना का विकल्प चुनते हैं तो उन्हें किराए में भी तीन से नौ प्रतिशत कर ज्यादा किराया देना होगा.

रेलवे के नए आदेश के मुताबिक, AC1 में मिलने वाली चाय की कीमत 15 रुपये से बढ़ा कर 35 रुपये कर दी गई है. वहीं इसमें नाश्ते की कीमत 90 रुपये से बढ़ा कर 140 रुपये कर दी गई है. इसके अलावा लंच और डिनर के लिए पहले आपको 140 रुपये खर्च करने होते थे लेकिन अब इसके लिए आपको 245 रुपये खर्च करने होंगे.

वहीं AC2 और AC3 में चाय की कीमत 10 रुपये से बढ़ा कर 20 रुपये कर दी गई  है. वहीं इन ट्रेनों में नाश्ते की कीमत 70 रुपये बढ़ा कर 105 रुपये कर दी गई है. वहीं लंच और डिनर के लिए आपको 120 रुपये खर्च करने होते हैं जो बढ़ने के बाद आपको 185 रुपये देने होंगे. वहीं अगर आप शाम की चाय लेते हैं तो अभी आपको 45 रुपये चुकाने होते हैं जो बढ़ोतरी के बाद 90 रुपये हो गई है.

बता दें कि राजधानी, शताब्दी और दुरंतो ट्रेनों में सफर के दौरान मिलने वाले खाने की कीतमें इससे पहले साल 2013 में बढ़ाई गई थी. रेलवे के आदेश के मुताबिक क्षेत्रीय जायके वाला नाश्ता परोसने की भी शुरुआत करने का फैसला किया गया है. इस 350 ग्राम का ये नाश्ता यात्रियों को 50 रुपये की कीमत में मिलेगा. आदेश में कहा गया है, “IRCTC नये शुरू किए जाने वाले भोजन के विकल्पों को इस तरह से उपलब्ध कराएगा कि भोजन की मात्रा एवं गुणवत्ता उनकी कीमतों के अनुरुप हों और सेवा प्रदाता को किसी तरह का अनुचित लाभ न मिल सके.”

वहीं राजधानी, शताब्दी, दूरंतो ट्रेनों में पूर्व भुगतान के आधार पर मिलने वाले खाने एवं उनकी दरों तथा मेल या एक्सप्रेस ट्रेनों में तत्काल भुगतान पर मिलने वाले खाने एवं उनकी कीमतों की समीक्षा IRCTC से प्राप्त अनुरोध और बोर्ड द्वारा गठित भोजन एवं शुल्क समिति की अनुशंसाओं को ध्यान में रखते हुए की गई है. वहीं मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों के लिए चाय एवं मानक भोजन की कीमत 40 रुपये से 130 रुपये रखी गई है. बता दें इन ट्रेनों में मिलने वाले खाने की कीमत इससे पहले साल 2012 में बढ़ाई गई थी.

रेल मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि, “समिति ने भारतीय रेलों में सफर करने वाले यात्रियों को बेहतर एवं स्वच्छ भोजन उपलब्ध कराने के लक्ष्य को जहन में रखते हुए सभी पहलुओं को वैज्ञानिक तरीके से जांचा. “अगर यात्री भोजन का विकल्प चुनते हैं तो जिन ट्रेनों में भोजन के लिए पूर्व में भुगतान करना होता है उनके कुल टिकट किरायों में तीन से नौ प्रतिशत की बढ़ोतरी होगी। जलपान की ये नयी दरें 29 मार्च, 2020 से प्रभावी होंगी.”

ये भी पढ़ें-

Video: ट्रांसफर से गुस्साए दरोगा जी, विरोध में लगा दी 65 किलोमीटर की दौड़ लेकिन बीच रास्ते में..

कभी प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाले जस्टिस गोगोई ने अंतिम दिन मीडिया से दूर रहने की सलाह दी

लगातार तीसरे दिन पेट्रोल की कीमत में लगी आग, इतने बढ़ गए दाम

First published: 16 November 2019, 11:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी