Home » इंडिया » Indian railways check out the list of new rules from july 1, refund on Tatkal ticket
 

रेलवे के नियमों में बदलाव, एक जुलाई से तत्काल टिकट पर मिलेगा रिफंड

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 June 2016, 16:32 IST
(भारतीय रेल)

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने एक बार फिर रेलवे के नियमों में बड़े बदलाव का एलान किया है. नए नियमों के मुताबिक 1 जुलाई से ऑनलाइन बुकिंग पर वेटिंग टिकट नहीं मिलेगा. हालांकि तत्काल टिकट रद्द कराने पर अब आधा पैसा रिफंड हो जाएगा.

इसके साथ ही रेलवे ने घोषणा की है सभी प्रीमियम ट्रेनों में जल्दी ही कोच की संख्या में इजाफा किया जाएगा. रेलवे बोर्ड के संस्थापन निदेशक नीरज कुमार ने बताया कि जो इस एप्लीकेशन के लिए गंभीर नहीं हैं, उनकी संख्या रोकने के लिए ये कदम उठाया गया है.

एक जुलाई से ये बदलाव

  • राजधानी, शताब्दी, दुरंतो और बाकी सुपरफ़ास्ट एक्सप्रेस की तरह सुविधा ट्रेन चलाई जाएंगी. ये सभी ट्रेन प्रीमियम ट्रेन के व्यस्त रूट्स पर चलाने की तैयारी है.
  • सुविधा ट्रेन में किसी को भी वोटिंग टिकट नहीं दिया जाएगा. सभी को कन्फर्म टिकट मिलेगा.
  • एसी फर्स्ट और सेकंड क्लास का टिकट रद्द कराने पर 100 रुपये अतिरिक्त काटे जाएंगे.
  • एसी थर्ड के लिए 90 रुपये और स्लीपर क्लास का टिकट कैंसल कराने पर 60 रुपए अतरिक्त काटे जाएंगे.
  • एक जुलाई से तत्काल का टिकट रद्द कराने पर अब यात्रियों को 50 फीसदी किराया वापस किया जाएगा.
  • ट्रेन में पैसेंजर के लिए वेकअप कॉल डेस्टिनेशन फैसिलिटी शुरू की जाएगी.
  • राजधानी और शताब्दी ट्रेनों में पेपरलेस टिकट मिलेगा. इन ट्रेनों में मोबाइल टिकट वैलिड रहेगा. इन ट्रेनों में कोच भी बढ़ाए जाएंगे.
  • कोई भी व्यक्ति 50 हजार रुपये में सात दिनों के लिए एक रेलवे कोच बुक करवा सकता है.

  • नौ लाख रुपये देकर कोई भी व्यक्ति या ऑर्गनाइजेशन सात दिनों के लिए 18 डिब्बों की पूरी ट्रेन बुक करवा सकता है.
  • अगर किसी को 18 डिब्बों से ज्यादा की जरूरत होगी, तो एक कोच के लिए 50 हजार रुपये एडिशनल जमा कराने होंगे.

  • रेलवे में ओपन जॉब प्रॉसेस के लिए अब 500 रुपये फीस देनी होगी. अभी यह 100 रुपये थी.

First published: 21 June 2016, 16:32 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी