Home » इंडिया » Indian railways man cheats claiming lizard in food caught
 

रेलवे के खाने में बार-बार मिल रही थी छिपकली, सच्चाई जानकर अधिकारियों के उड़ गए होश

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 July 2019, 15:10 IST

रेल यात्रा के दौरान ज्यादातर लोग ट्रेन में खाने के लिए कुछ ना कुछ जरूर ऑर्डर करते हैं. रेलवे के खानों में कई बार शिकायतें भी सुनने के लिए मिली है, लेकिन एक बुजुर्ग ने फ्री में खाना खाने के लिए रेलवे के साथ ऐसा किया कि उसकी सच्चाई जानकर रेलवे अधिकारी भी हैरान हो गए.

दरअसल, रेलवे ने एक 70 वर्षीय बुजुर्ग सुरेंद्र पाल पर आरोप लगाया कि वह खाने में जानबूझकर छिपकली डालता था, ताकि उसे फ्री में खाना मिल सके. बताया जा रहा है कि इस बुजुर्ग ने 14 जुलाई को 14 जुलाई को जबलपुर रेलवे स्टेशन पर समोसा ऑर्डर किया, जिसमें उसने छिपकली मिलने की शिकायत की. इसके बार गंटकल स्टेशन पर उसने दोबारा बिरयानी ऑर्डर की, जिसमें भी उसने छिपकली निकलने की शिकायत दर्ज की.

बार-बार एक ही शख्स द्वारा छिपकली निकलने की शिकायत पर रेलवे अधिकारी हैरान हो गए थे. इसलिए उन्हें बुजुर्ग पर शक हुआ और उन्होंने शिकायतकर्ता सुरेंद्र पाल का गंटकल स्टेशन से वीडियो मंगवाया. इस वीडियो को देखकर अधिकारी काफी हैरान हो गए, क्योंकि उन्होंने देखा कि बुजुर्ग फ्री का खाना खाने के लिए बार-बार रेलवे की झूठी शिकायत दर्ज कराता था.

सच्चाई सामने आने के बाद रेलवे ने आरोपी यात्री का एक वीडियो जारी कर ट्रेन में खाना परोसने वालों को सतर्क रहने के लिए कहा. अधिकारियों ने अपने कर्मचारियों को ऐसे ग्राहकों से सतर्क रहने के लिए कहा और ऐसे मामले पर कड़ी नजर रखने के लिए कहा है.

 

रेलवे द्वारा जारी वीडियो में बुजुर्ग ने अपनी गलती स्वीकारी है. जारी वीडियो में बुुजुर्ग ने कहा, "मैंने गलत काम किया है. बुजुर्ग आदमी हूं और दिमागी रूप से अस्थिर हूं." इतना ही नहीं बुजुर्ग ने दावा किया है कि उसे ब्लड कैंसर की शिकायत है.

बुजुर्ग को रेलवे ने कोई सजा नहीं दी. वीडियो में अधिकारी सिर्फ उसे समझाते नजर आ रहे हैं कि सिर्फ फ्री के खाने के लिए रेलवे का नाम खराब करना गलत है. मालूम हो कि अक्टूबर से अब तक लगभग 7500 लोगों ने खराब खाने की शिकायत की.

विमान यात्रियों के लिए बड़ी खुशखबरी, अब मेट्रो की तरह कुछ ही मिनटों में कर सकते हैं सफर

First published: 24 July 2019, 15:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी