Home » इंडिया » Indian Railways Planning not to offer Non Veg Food on Gandhi Jayanti in Trains and Railways Station
 

रेलवे शाकाहारी अंदाज में मनाएगा गांधी जयंती, ट्रेन और स्टेशन में नहीं मिलेगा नोनवेज खाना

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 May 2018, 12:38 IST

अगर आप ट्रेन से यात्रा करते हैं और ट्रेन में मिलने वाला नॉनवेज खाना खाना पसंद करते हैं, तो आपको थोड़ी मायूसी हाथ लगेगी. क्योंकि अब गांधी जयंती के मौके पर को ना तो ट्रेन में नोनवेज मिलेगा और ना ही रेलवे स्टेशन पर. हालांकि बाकी दिनों में यात्रियों का खाने पीने की चीजें वैसे ही मिलती रहेंगी जैसे अभी मिलती हैं.

दरअसल, भारतीय रेलवे ने एक ब्लूप्रिंट तैयार किया है. जिसमें 2020 में महात्मा गांधी की 150वीं जयंती को 'शाकाहार दिवस' के रूप में मनाने के प्रस्ताव भेजा है. जिसके लिए इसी साल यानि 2 अक्टूबर 2018, 2019 और 2020 को रेलवे परिसरों में यात्रियों को नोनवेज खाना नहीं परोसा जाएगा. केंद्र सरकार ने 2020 में महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर विशेष समारोह मनाने की योजना बनाई है.

बता दें कि अगर रेलवे ने 'शाकाहार दिवस' मनाए जाने के अलावा साबरमती से गांधीजी से जुड़े विभिन्न स्टेशनों के लिए 'स्वच्छता एक्सप्रेस' और डांडी मार्च के उपलक्ष्य में 12 मार्च को साबरमती से एक 'विशेष नमक रेल' चलाने की योजना बनाई है.

इसके अलावा रेलवे ने महात्मा गांधी की वाटरमार्क तस्वीर के साथ टिकटें भी जारी करने की योजना बनाई है. रेलवे बोर्ड के मुताबिक, इसके लिए संस्कृति मंत्रालय से मंजूरी की जरूरत पड़ेगी, क्योंकि यह विशेष स्मारक जारी करने वाली नोडल मंत्रालय है.

बता दें कि इस महीने की शुरुआत में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने महात्मा गांधी की 150वीं जयंती समारोह की तैयारियों को लेकर ‘राष्ट्रीय समिति’ की पहली बैठक की अध्यक्षता की थी. फिलहाल ट्रेनों की पैंट्री में यात्रियों को वेज और नॉन वेज खाना परोसने की सुविधा है. हालांकि इसके बाद जो लोग ट्रेनों में नोनवेज खाना पसंद करते हैं उन्हें थोड़ी परेशानी हो सकती है. गौरतलब है कि 2 अक्टूबर को ही राष्ट्रीय स्वच्छता दिवस भी मनाया जाता है.

ये भी पढ़ें- केरल में फैला खतरनाक 'अनजान' वायरस, निगल गया है 9 लोगों की जान

First published: 21 May 2018, 12:39 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी