Home » इंडिया » Indian Railways will accept Aadhaar, driving licence as valid ID proof kept in DigiLocker
 

खुशखबरी: मोदी सरकार का बड़ा फैसला, अब बिना आईडी प्रूफ कर सकेंगे ट्रेन में यात्रा

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 July 2018, 15:43 IST

रेलवे ने यात्रा के दौरान आधार की सॉफ्ट कॉपी और ड्राइविंग लाइसेंस को भी वैध आईडी के रुप में मान्यता दे दी है. हालांकि इसके लिए यह जरुरी है कि पहचान पत्र के रुप में दिखाया जाने वाले ये दस्तावेज आपके डिजी लॉकर में संरक्षित हो.  

इस आदेश में कहा गया है, "अगर यात्री आधार या ड्राइविंग लाइसेंस, डिजी लॉकर अकॉउंट में ल़ॉग इन के माध्यम से दिखाएंगे तो उसे वैध आईडी प्रूफ मान लिया जाएगा."

बता दें कि सरकार द्वारा संचालित एक डिजिटल स्टोरेज सेवा है जो भारतीय नागरिकों को क्लाउड पर कुछ आधिकारिक दस्तावेज स्टोर करने में सक्षम बनाती है.

हालांकि, यह स्पष्ट किया गया है कि यात्री द्वारा अपलोड किए गए दस्तावेज जो 'अपलोड किए गए दस्तावेज़' अनुभाग में दस्तावेज हैं, को पहचान के वैध प्रमाण के रूप में नहीं माना जाएगा.

ये भी पढ़ें-Nano कार पर Tata Motors ने लगाई लगाम, जून में बनी सिर्फ एक गाड़ी

गौरतलब है कि इस क्लाउड-आधारित प्लेटफॉर्म का टाई-अप सीबीएसई के साथ भी है. जिसके अंतर्गत यह सीबीएसई छात्रों की मार्कशीट के डिजिटल कॉपी भी प्रदान करता है. इसके अलावा सब्सक्राइबर डिजी लॉकर के साथ अपने स्थायी खाता संख्या (पैन) को भी एकीकृत कर सकते हैं.

First published: 5 July 2018, 15:43 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी