Home » इंडिया » Indian woman Uzma returns to India via Attari-Wagah border, she alleged she was forced to marry a Pakistani
 

पाकिस्तान से वापस लौटीं उज़मा, वाघा बॉर्डर पहुंचते ही सरज़मीं को किया सलाम

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 May 2017, 13:44 IST

पाकिस्तान में कथित रूप से बंदूक की नोंक पर जबरन निकाह का शिकार हुई भारतीय महिला उज़मा स्वदेश लौट आई हैं. उज़मा को दो भारतीय अधिकारियों ने वाघा बॉर्डर से रिसीव किया. उज़मा ने भारत की धरती पर कदम रखते ही हुए उसे छूकर प्रणाम किया.

उज़मा ने इस्लामाबाद हाईकोर्ट में अपने पति ताहिर अली के खिलाफ एक याचिका भी दायर की थी, जिसमें उसने ताहिर पर प्रताड़ित करने और धमकाने का आरोप लगाया थाइस्लामाबाद हाईकोर्ट के जज मोहसिन अख्तर कयानी ने उज़मा का मूल आव्रजन प्रपत्र लौटा दिया है.

इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने उज़मा को भारत आने की इजाजत दे दी थी. इसके बाद कड़ी सुरक्षा के बीच वह वाघा बॉर्डर तक पहुंची. उजमा इसी महीने पाकिस्तान आई थीं. पाक अधिकारियों ने बताया कि उज़मा ने जब वीजा के लिए आवेदन किया था, तो उसने बताया था कि वो पाकिस्तान अपने रिश्तेदारों से मिलने जा रही हैं.

 

क्या है उज़मा का मामला?

पाकिस्तान में उज़मा नाम की एक भारतीय महिला से एक पाकिस्तानी डॉक्टर ने कथित तौर पर जबरन शादी की है. इसी मामले की सुनवाई इस्लामाबाद हाईकोर्ट में हो रही है. बता दें कि उजमा दिल्ली की रहने वाली हैं. उसने पिछले दिनों भारतीय उच्चायोग में शरण ली थी. उसने भारतीय अफसरों को बताया था कि कैसे एक पाकिस्तानी नागरिक के साथ शादी करने के लिए उसे बंदूक तानकर मजबूर किया गया.

उज़मा का आरोप है कि उसे हिंसा और यौन उत्पीड़न का सामना करना पड़ा था. उज़मा ने इस्लामाबाद अदालत में अपने पति ताहिर अली के खिलाफ याचिका दायर की है, जिसमें उसने ताहिर पर प्रताड़ना और धमकाने का आरोप लगाया है. महिला ने मजिस्ट्रेट के समक्ष अपना बयान भी रिकॉर्ड कराया है.

First published: 25 May 2017, 13:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी