Home » इंडिया » Indore: Nine kg deadly chemical recovered from illegal laboratory phd scholar arrested
 

इंदौर में 50 लाख लोगों की जान थी खतरे में, मिला ऐसा 'मौत का सामान' जिससे आ जाती तबाही

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 September 2018, 12:33 IST

मध्य प्रदेश के शहर इंदौर के एक अवैध केमिकल फैक्ट्री से इतना ज्यादा मौत का सामान पाया गया है कि अगर सही समय पर उसे बरामद न कर लिया जाता तो तबाही आ जाती. यहां की एक अवैध लेबोरेटरी से 9 किलोग्राम घातक फेंटानिल केमिकल बरामद किया गया है. अनुमान है कि इस केमिकल में 40 से 50 लाख लोगों को जान लेने की क्षमता थी.

फिलहाल केमिकल को बरामद कर लिया गया है और कार्रवाई में कथित रूप से अमेरिका से नफरत करने वाले एक पीएचडी स्कॉलर को गिरफ्तार कर लिया गया है. टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार, डायरेक्टरेट ऑफ रेवेन्यू इंटीलेंज ने डीआरडीओ के साइंटिस्ट्स के साथ मिलकर इसके लिए करीब एक हफ्ते तक ऑपरेशन चलाया. तब जाकर घातक केमिकल और अवैध लेबोरेटरी का पर्दाफाश हुआ. 

आपको बता दें कि पाया गया घातक केमिकल Synthetic Opioid, Fentanyl काफी घातक माना जाता है. इस अवैध लेबोरेटरी को एक पीएचडी स्कॉलर और स्थानीय बिजनेसमैन मिलकर चलाते थे. मेक्सिको के एक नागरिक को भी इस मामले में पकड़ा गया है.

 

ये पहली बार है जब भारत में इतना घातक फेंटानिल केमिकल पकड़ में आया है. इसे लेकर अब दिल्ली की जांच एजेंसियां भी सतर्क हो गई हैं. आप जानकर हैरान रह जाएंगे कि फेंटानिल हेरोइन से 50 गुना अधिक शक्तिशाली होता है और इसे सिर्फ सूंघने से मौत हो सकती है.

पढ़ें- आर्मी के मेजर पर लगा नौकरानी से रेप का आरोप, पीड़िता के पति ने खौफ से कर ली आत्महत्या !

इस पर्दाफाश से कई साइंटिस्ट हैरान रह गए हैं, सांइटिस्ट का कहना है कि इस केमिकल को तैयार करने के लिए काफी ट्रेनिंग की जरूरत पड़ती है. इसका इस्तेमाल मेडिकेशन में भी होता है.

First published: 30 September 2018, 12:05 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी