Home » इंडिया » Innovative initiative of CSIR labs to connect with school children
 

बच्चों की 'जिज्ञासा' सुलझाने के लिए CSIR की पहल

उमाशंकर मिश्र | Updated on: 7 July 2017, 16:06 IST

वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद (CSIR) ने स्कूली छात्रों को विज्ञान और वैज्ञानिकों के करीब लाने के लिए केंद्रीय विद्यालय संगठन (केवीएस) के साथ मिलकर ‘जिज्ञासा’ नामक एक नया कार्यक्रम शुरू किया है.

इस कार्यक्रम का मकसद छात्रों और उनके अध्‍यापकों में वैज्ञानिक दृष्टिकोण विकसित करना और उनमें जिज्ञासु प्रवृत्ति को प्रोत्‍साहित करना है. इस कार्यक्रम की मदद से देश भर के 1,151 केंद्रीय विद्यालयों के 100,000 छात्र और लगभग 1000 शिक्षकों को सीएसआईआर की 38 प्रयोगशालाओं से प्रतिवर्ष सीधे जोड़ा जा सकेगा.

उम्‍मीद की जा रही है कि इस कार्यक्रम के अंतर्गत राष्‍ट्रीय प्रयोगशालाओं से सीधा जुड़ाव होने से कक्षा में छात्रों की सीखने की प्रक्रिया को बढ़ावा मिल सकेगा.

‘जिज्ञासा’ को खास तरीके से डिजाइन किया गया है, ताकि छात्र और उनके शिक्षकों का परिचय सैद्धांतिक अवधारणाओं से जीवंत रूप से कराया जा सके. इस कार्यक्रम के तहत सीएसआईआर की प्रयोगशालाओं में जाकर उन्‍हें विज्ञान की छोटी-छोटी परियोजनाओं में शामिल होने का मौका मिल सकेगा.

पिछले कई दशक से CSIR तकनीक और जांच के क्षेत्र में महत्‍वपूर्ण कार्य कर रहा है. प्‍लैटिनम जुबली वर्ष के अवसर पर CSIR ने अपनी वैज्ञानिक और सामाजिक जिम्‍मेदारी को बढ़ावा देने के लिए यह कार्यक्रम शुरू किया है.

(साभारः इंडिया साइंस वायर)

First published: 7 July 2017, 16:06 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी