Home » इंडिया » Intelligence alert of terrorist attack before Republic Day, Police force monitored in Delhi
 

गणतंत्र दिवस से पहले आतंकी हमले का खुफिया अलर्ट! दिल्ली में चप्पे-चप्पे पर पुलिसफोर्स की निगरानी

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 January 2020, 20:03 IST

26 जनवरी को देशभर में गणतंत्र दिवस धूमधाम से मनाया जाएगा. इससे पहले केंद्रीय खुफिया एजेंसियों को गणतंत्र-दिवस की पूर्व संध्या पर दिल्ली में हमले की खबर मिली है. खूफिया अलर्ट है कि आतंकियों के निशाने पर भीड़ भरे बाजार और सरकारी इमारतें हैं. इसे देखते हुए राजधानी दिल्ली में सुरक्षा के इंतजाम की जिम्मेदारी निभाने वाली पुलिस सतर्क हो गई है.

शनिवार से ही पुलिस ने नई दिल्ली, मध्य दिल्ली और उत्तरी दिल्ली की बहुमंजिला इमारतों को खाली कराके उसे सील करने का निर्णय लिया है. इस बार 48 केंद्रीय अर्धसैनिक बल कंपनी राजधानी के चप्पे-चप्पे पर तैनात रहेंगी. सबंधित विभागों से इसके लिए लिखित स्वीकृति भी प्राप्त हो चुकी है. दिल्ली पुलिस के 22 हजार जवान शनिवार दोपहर बाद से ही तैनात कर दिए जाएंगे.

दिल्ली पुलिस मुख्यालय द्वारा तमाम विशेष आयुक्तों (कानून एवं व्यवस्था), परिक्षेत्रों के संयुक्त आयुक्तों, जिलों के डीसीपी को भी बेहद सतर्क रहने की हिदायत दे दी गई है. आयुक्त ने सख्त लहजे में आला-अधिकारियों को समझा दिया है कि कहीं भी आपसी सामंजस्य में कमी आई तो इसका इस्तेमाल विध्वंसकारी ताकतें करने से बाज नहीं आएंगी.

गणतंत्र दिवस परेड के दौरान जो भी स्थान और इमारतें संवेदनशील मानी गई हैं, वहां दिल्ली पुलिस के ब्लैककैट कमांडो तैनात किए जाएंगे. परेड के बाद राष्ट्रपति भवन में आयोजित 'एटहोम' तक सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम बने रहेंगे. दिल्ली की सीमाओं पर चौकसी की रणनीति भी संबंधित राज्यों की पुलिस के साथ बनाई जा चुकी है.

आपात स्थिति में संचार की मदद के लिए चलते-फिरते 'मोबाइल-कंट्रोल-रूम' भी बनाए गए हैं. इन विशेष किस्म के मोबाइल कंट्रोल-रूम के खुफिया कॉल-साइन भी निर्धारित कर दिए गए हैं, जो आपात स्थिति में सिर्फ दिल्ली पुलिस ही सुन व समझ पाएगी. परेड के दौरान भीड़ रोकने का भी ख्याल रखा जाएगा. इसके लिए बाकायदा दिल्ली यातायात पुलिस के 2000 से ज्यादा जवान सड़क पर तैनात रहेंगे.

First published: 24 January 2020, 19:12 IST
 
अगली कहानी