Home » इंडिया » INX Money Laundering Case: Karti Chidambaram to be present in court today, Karti Chidambaram in CBI remand
 

INX मनी लॉन्ड्रिंग केस: CBI रिमांड पर कार्ति चिदंबरम, आज कोर्ट में किया जाएगा पेश

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 March 2018, 11:31 IST

पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के बेटे कीर्ति चिदंबरम को आज कोर्ट में पेश किया जाएगा. वह अभी सीबीआई रिमांड पर हैं. दरअसल, आईएनएक्स मीडिया मनी लांड्रिंग मामले में कार्ति चिदंबरम को कल(28 फरवरी) CBI ने चेन्नई एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया था. इससे पहले दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने कार्ति चिदंबरम के चाटर्ड अकाउंटेंट एस भास्करन को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा था.

कार्ति को गिरफ्तार करने के बाद सीबीआई ने पटियाला हाउस कोर्ट से उन्हें 15 दिन की रिमांड पर भेजने की मांग की थी, लेकिन कोर्ट ने कार्ति को एक दिन की रिमांड पर भेजा है. सीबीआई की विशेष अदालत के जज सुमित आनंद इस मामले की सुनवाई कर रहे हैं.

 

इससे पहले इस केस में पटियाला हाउस कोर्ट में कार्ति चिदंबरम के वकील अभिषेक मनु सिंघवी और सीबीआई के बीच जोरदार बहस हुई. सीबीआई ने कहा कि कार्ति सवालों का जवाब नहीं दे रहे हैं. उन्होंने जांच के सबूतों को नष्ट करने की कोशिश की, साथ ही उनके खिलाफ कई पुख्ता सबूत हैं.

वहीं, कार्ति के वकील ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि कार्ति 23 अगस्त, 2017 से जांच में सहयोग कर रहे हैं. कार्ति के वकील ने कहा कि कार्ति ने 22 घंटे तक सीबीआई के सवालों का जवाब दिया है और अब उनके पास पूछने के लिए कुछ भी नहीं बचा है. सिंघवी का कहना है कि ये कैसे संभव है कि दो बार आपके बुलाने और दोनों ही बार उनके आने के बाद भी सीबीआई ये कैसे कह सकती है कि उन्होंने जांच में सहयोग नहीं किया.

 

दरअसल, आईएनएक्स मीडिया को विदेशी निवेश संवर्द्धन बोर्ड से विदेशों से फंड प्राप्त करने में क्लीयरेंस संबंधी मामले में कथित रूप से अनियमितता का आरोप है. इस संबंध में पिछले साल 15 मई को मामला दर्ज किया गया था. इस मामले में कार्ति का नाम उस वक्त आया था जब उनके पिता पी चिदंबरम यूपीए सरकार में वित्त मंत्री थे.

ईडी की ओर से दावा किया गया था कि कार्ति के सीए ने गलत तरीके से संपत्ति अर्जित करने में मदद की थी. कार्ति के सीए को कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था, जिसके बाद उन्हें तिहाड़ जेल भेज दिया गया था. इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने 31 जनवरी को मद्रास उच्च न्यायालय को आईनेक्स मीडिया मामले में कार्ति चिदंबरम के खिलाफ न्यायिक क्षेत्राधिकार समेत सभी मामले में निर्णय लेने को कहा था.

First published: 1 March 2018, 9:04 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी