Home » इंडिया » IPS officer Himanshu Roy PET scan report revealed his cancer was under control
 

IPS हिमांशु रॉय का कैंसर नियंत्रण में था, ख़ुदकुशी की बात पर डॉक्टरों को नहीं हो पा रहा यकीन

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 May 2018, 13:55 IST

महाराष्ट्र पुलिस के वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी हिमांशु रॉय की एक पीईटी स्कैन रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है कि उनका कैंसर नियंत्रण में था. रॉय कुछ समय से बीमारी से जूझ रहे थे लेकिन 10 दिन पहले की रिपोर्ट से पता चला था कि उनका ट्यूमर पूरी तरह से गायब हो गया था और डॉक्टरों की टीम का कहना था कि यह उनके इलाज के लिए अच्छा संकेत था.

द हिन्दू की रिपोर्ट के अनुसार नासिक की एक अन्य शाखा (सीडीसी) जहां रॉय का इलाज चला था, के मेडिकल डायरेक्टर ओन्कोलॉजिस्ट डॉ राज नागरकर का कहना है कि जिस तरह उनकी बीमारी सकारात्मकता के आगे बढ़ रही थी ऐसे में यह कहना गलत होगा कि रॉय ने बीमारी के कारण खुद को मार डाला. उन्होंने कहा यह मेरे लिए व्यक्तिगत नुकसान है". 

डॉ नागरकर का कहना है कि "मैंने तीन सप्ताह पहले कैंसर रोगियों के लिए एक खुले मंच के बारे में उनसे बात की थी और वह तुरंत इस मंच पर एक स्पीकर बनने के लिए सहमत हुए थे. आईपीएस हिमांशु रॉय नियमित रूप से भी व्यायाम कर रहे थे और गुरुवार को वह जिम भी गए थे. डॉ नागरकर का कहना है कि रॉय का पहली बार किडनी ट्यूमर साल 2000 में इलाज किया गया था.

फरवरी 2016 में ट्यूमर मेटास्टेसिस में पहुंच गया रॉय की हड्डियों, मस्तिष्क, मांसपेशियों और कई मुलायम ऊतकों में फ़ैल गया. कई हाई प्रोफ़ाइल जांच के मामलों में शामिल रहे मुंबई पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी हिमांशु रॉय ने शुक्रवार को अपने घर पर खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली थी. हिमांशु रॉय वर्तमान में एडिशनल डायरेक्टर पद पर तैनात थे.

रॉय ने अपने इलाज के लिए लंबी छुट्टी ली थी और वह साल 2016 से दफ्तर नहीं जा रहे थे. ख़बरों के अनुसार 1988 बैच भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) अधिकारी ने कथित रूप से मुंबई में अपने घर पर 1.40 बजे अपने घर पर रिवाल्वर से खुद को गोली मारी, जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया था.

ये भी पढ़ें : महाराष्ट्र के पूर्व ATS चीफ हिमांशु रॉय ने खुद को गोली मारकर की खुदकुशी

First published: 12 May 2018, 13:51 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी