Home » इंडिया » Iran missiles land near Al Dhafra airbase where IAF's 5 Rafales halted overnight- report
 

UAE में जिस एयरबेस पर रूके थे राफेल विमान, ईरान ने उसके पास दागी मिसाइलें- रिपोर्ट

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 July 2020, 12:29 IST

फ्रांस (France) से भारत (India) ने वायुसेना (Indian Air Force) को मजबूती देने के लिए 36 राफेल विमानों (Rafale Jet) की डील की थी, जिसकी पहली खेप में 5 विमान भारत आ रहे हैं, जो बुधवार को दोपहर करीब 2 बजे अंबाला एयरबेस (Ambala Air Base) पर उतरेंगे. इन विमानों ने 27 को फ्रांस से उड़ान भरी थी और वो मंगलवार को यूएई (UAE) के अल दाफरा (AL Dhafra) एयरबेस उतरे थे और देर रात वहीं रूके हुए थे. वहीं अब खबर है कि यूएई में जिस जगह भारत के पांच राफेल विमान थे, उस जगह के पास ईरान की कम से कम तीन मिसाइलें गिरी थी और उसके बाद यूएस और फ्रांस के पूरे एयरबेस पर हाई अलर्ट की स्थिति में थी.

सीएनएन के बारबरा स्टार ने ट्वीट किया,"सीएनएन को पता चला है कि अमेरिकी एयरबेस अल धाफ्रा और अल उदीद को अलर्ट पर रखा गया है, जब जानकारी मिली की ईरान की मिसाइलें एयर बेस की तरफ बढ़ रही हैं. जवानों को कई मिनटों तक कवर के लिए बोला गया था. हालांकि, कोई मिसाइल नहीं टकराई, अमेरिकी अधिकारियों ने कहा उन्होंने एहतियाती कदम उठाए." 


वहीं अमेरिका के फॉक्स न्यूज के लुकास टॉमलिंसन ने ट्वीट किया,"मध्य पूर्व में यू.एस. के सैनिकों और विमानों के दो ठिकानो को हाई अलर्ट पर रखा, जब 3 ईरानी मिसाइलें बेस के पास स्थित सुमद्र किनारे पर आकर गिरी, जो ईरान के सैन्य अभ्यास केा हिस्सा थी. मिसाइलें संयुक्त अरब अमीरात में अल धाफ्रा एयरबेस के काफी निकट गिरी थी, जो अधिकारिकों के लिए चिंता का विषय बनी रही."

 

दरअसल, अमेरिका के साथ चल रहे तनाव के बीच ईरान ने अपना युद्ध अभ्यास शुरू कर दिया है. इस अभ्यास के दौरान ईरान ने संयुक्‍त अरब अमीरात की राजधानी अबू धाबी के निकट स्थित अल धाफ्रा हवाई ठिकाने, जहां फ्रांस और अमेरिका के एयर बेस हैं, उसके नजदीक मिसाईलें गिराई थी और इसी कारण पूरी रात यूएस और फ्रांस ने अपने एयर बेस पर हाई अलर्ट रखा था.

वहीं कुछ मीडिया रिपोर्ट में इस बात का भी दावा किया गया है कि इन हमलों के बाद फ्रांस के एयरबेस पर पहुंचे भारतीय जवानों को सुरक्षित स्थानों पर जाने के लिए कह दिया गया था. खबरों के अनुसार, ईरानी सेना अल धाफ्रा के पास अपना सैन्य अभ्यास कर रही है. बता दें, इन हमलों में भारतीय सेना के जवानों और राफेल विमानों को किसी तरह का कोई नुकसान नहीं पहुंचा है.

आज अंबाला में लैंड करेंगे फ्रांस से आ रहे पांच राफेल लड़ाकू विमान, वायुसेना प्रमुख भदौरिया करेंगे अगवानी

दोपहर 2 बजे पहुंचेंगे राफेल, अंबाला एयरबेस के करीब 4 गांवों में धारा 144 लागू

हिलाल अहमद राठेर: इंडियन एयरफोर्स के पहले पायलट जिन्होंने राफेल से भरी उड़ान

 

First published: 29 July 2020, 12:24 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी