Home » इंडिया » IRCTC Ramayan Express to be start from today know here full route
 

आज से शुरु हो रही है 'रामायण एक्सप्रेस' इन शहरों से होकर गुजरेगी

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 November 2019, 13:39 IST

भारतीय रेलवे आज से एक बार फिर रामायण एक्सप्रेस शुरु कर रही है. ये ट्रेन यात्रियों को भगवान राम के जीवन से जुड़े पौराणिक स्थलों के दर्शन कराएगी. भारतीय रेलवे इस ट्रेन का संचालन आज यानी 18 नवंबर से कर रही है. पहले की ही तरह इस ट्रेन को इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कार्पोरेशन (IRCTC) द्वारा संचालित किया जा रहा है. इस ट्रेन से की गई यात्रा आईआरसीटीसी के भारत दर्शन पैकेज का हिस्सा होगी.

बता दे कि रामायण एक्सप्रेस इस बार 18 नवंबर से शुरु हो रही है. ये ट्रेन इंदौर से अयोध्या, सीतामढ़ी, जनकपुर, प्रयागराज, चित्रकूट, नासिक, हम्पी, रामेश्वर, मदुरई से होते हुए वापस आएगी. इस सफर को पूरा करने में यात्रियोंं को 14 रात और 15 दिन का समय लगेगा. इस यात्रा के दौरान श्रद्धालु भगवान राम से जुड़े हर मनोरम तीर्थस्थल का दर्शन करेंगे. जैसे राम जन्मभूमि, हनुमान गढ़ी, भारत मंदिर, सीता माता मंदिर, तुलसी मानस मंदिर, संकट मोचन मंदिर, सीतामढ़ी, त्रिवेणी संगम, हनुमान मंदिर, भारद्वाज आश्रम, श्रृंगी ऋषि मंदिर, रामघाट, सती अनुसुइया मंदिर, पंचवटी, अंजनद्री हिल, हनुमान जन्मस्थल, ज्योतिर्लिंग शिव मंदिर आदि के दर्शन कर सकेंगे.

वहीं इस टूर पैकेज में यात्रियों को शुद्ध शाकाहारी भोजन, ठहरने के लिए उचित स्थान, दर्शनीय स्थलों के लिए पर्यटक बसें, घोषणाओं और सूचनाओं के लिए टूर एस्कॉर्ट्स की व्यवस्था और बेहतर सुरक्षा व्यवस्था मिलेगी. ये ट्रेन 18 नवंबर को इंदौर से सुबह 6 बजे रवाना हो चुकी है.

इस बार रामायण एक्सप्रेस से यात्रा करने के लिए यात्रियों को स्टैंडर्ड कैटेगरी के तहत 14,175 रुपये प्रति व्यक्ति के हिसाब से किराया देना होगा. वहीं कंफर्मट कैटेगरी के लिए 17,325 रुपये प्रति व्यक्ति किराया रखा गया है. अगर आप भी रामायण एक्सप्रेस में ऑनलाइन सीट बुकिंग कराना चाहते हैं तो आप इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म की वेबसाइट www.irctctourism.com लॉगिन कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें-

दिल्ली : सीआर पार्क स्थित काली मंदिर से आधा कुंटल चांदी और करीब एक किलो सोना गायब

शिवसेना का हमला- BJP को लगता है अपुन ही भगवान है लेकिन NDA को हमने मजबूत किया

जस्टिस बोबडे ने ली देश के 47वें CJI के रूप में शपथ, दादा और पिता दोनों थे वकील

First published: 18 November 2019, 12:08 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी