Home » इंडिया » Ishrat Jahan: SC Rejects Plea Quashing Case Against Gujarat Police
 

इशरत जहां मामले में सुप्रीम कोर्ट का सुनवाई से इंकार

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 March 2016, 15:33 IST

सुप्रीम कोर्ट ने 2004 में कथित फर्जी मुठभेड़ में मारी गई इशरत जहां के मामले में दायर जनहित याचिका (पीआईएल) की सुनवाई करने से इंकार कर दिया है.

वकील एमएल शर्मा की ओर दायर पीआईएल में लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी डेविड हेडली के बयान के आधार पर गुजरात पुलिसकर्मियों के खिलाफ आपराधिक अभियोजन, निलंबन और अन्य कार्रवाई को रद्द करने का आग्रह किया गया था.

इशरत जहां: सियासत और न्यायपालिका के गले में अटका 'फर्जी' एनकाउंटर

जस्टिस पीसी घोष और जस्टिस अमिताव रॉय की पीठ ने याचिकाकर्ता से कहा, अनुच्छेद 32 का क्या उद्देश्य है. आप इसके तहत ऐसा मामला दायर नहीं कर सकते. यदि आप चाहें तो संविधान के अनुच्छेद 226 के तहत हाईकोर्ट जा सकते हैं.

इसके अलावा पीआईएल में पूर्व गृहमंत्री पी. चिदंबरम पर शीर्ष अदालत और गुजरात हाईकोर्ट में झूठी गवाही देने और गुमराह करने का आरोप लगाया गया. चिदंबरम के खिलाफ अवमानना की कार्रवाई करने की मांग की गई थी.

इशरत जहां मामले से जुड़े अहम दस्तावेज गायब: गृह मंत्री राजनाथ सिंह

अमेरिकी जेल में बंद लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) के सदस्य डेविड हेडली ने पिछले महीने गवाही के दौरान मुंबई की एक अदालत को बताया था कि इशरत लश्कर की सदस्य थी.

मुठभेड़ में कथित भूमिका को लेकर तत्कालीन डीआईजी डीजी वंजारा सहित गुजरात पुलिसकर्मी मुंबई की एक अदालत में अभियोजन का सामना कर रहे हैं.

First published: 11 March 2016, 15:33 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी