Home » इंडिया » ISI is plaaning a terrorist attack in India, purchased anti thermal jackets for infiltration
 

पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI ने भारत को दहलाने का बनाया मास्टर प्लान, ऐसे कराएगा घुसपैठ

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 August 2018, 13:17 IST

भारत में आतंक की तबाही मचाने के लिए आईएसआई तैयारी में है. पाकिस्तान की तरफ से आतंक का ये खेल खत्म होता नहीं दिख रहा है. सूत्रों की मानें तो पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई ने पाकिस्तान की सेना की मदद से करीब 200 से ज्यादा एंटी थर्मल जैकेट खरीदे हैं.

पाकिस्तान के इस कदम के हिसाब से ये माना जा रहा है कि ये भारत में घुसपैठ की तैयारी के लिए ये आईएसआई का नया पैंतरा है. सूत्रों के अनुसार भारत पाकिस्तान की सीमा पर सुरक्षा को देखते हुए थर्मल डिवाइस लगाए गए हैं, जिससे कि घुसपैठ को रोका जा सके.

लेकिन ये जैकेट्स लेने के बाद आतंकी सेना को चकमा देने में कामयाब हो सकते हैं. इन जैकेट्स को पहन कर आसानी से आतंकी भारत की सीमा में घुसपैठ कर सकते हैं. खुफिया एजेंसियों से मिली इस जानकारी के बाद सुरक्षा बल और सेना अलर्ट हो गयी है.

ये भी पढ़ें- जम्मू-कश्मीर: धारा 35A पर SC में सुनवाई के विरोध में घाटी बंद, क्या हट जाएगा कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा?

खुफिया एजेंसी ने गृह मंत्रालय को भेजी इस रिपोर्ट में ये दावा किया है पाकिस्तान की एक ख़ास यूनिट को भी ये जैकेट्स मुहैया कराई गयी है. पकिस्तान की इस यूनिट के बारे में ये कहा जाता हैं कि पकिस्तान की देना का ये भाग आतंकियोपन को घुसपैठ करने में सहायता करता है. इतना ही नहीं घुसपैठियों को सुरक्षा देने के लिए ये कवर फायर भी देता है.

बीएसएफ के सूत्रों ने बताया है कि पाकिस्तान भारत में घुसपैठ के इरादे से ही इन जैकेट्स का इंतजाम करने में लगा हुआ है. इसी के साथ ये भी खबरिओन मिली है कि पाकिस्तान इस तकनीकी को विदेश से न लेकर पाकिस्तान में ही बनाएगा. इसी के साथ वो अंतर्राष्ट्रीय सीमा में और भारत में आतंकियों के घुसपैठ की तैयारी में जुटे हैं.

ये भी पढ़ें- IPS अधिकारी का भाई बना हिजबुल का आतंकी, ऑफिसर का कर दिया गया ट्रांसफर

ये जैकेट्स हेल्ड थर्मल इमेज यानी एच एच टी आई में साफ डिटेक्ट नहीं हो पाएगा. और सेना ऐसी घुसपैठ का पता नहीं लगा पाएगी. BSF बॉर्डर से ऐसी तस्वीर और वीडियो आने के बाद अब उसकी टेक्निकल टीम जांच करने में जुटी हुई है.

सीमा पर एक वीडियो से ये खुलासा हुआ जिसमे एक आकृति तो दिखाई दे रही है लेकिन वो क्या है इसे डिटेक्ट नहीं किया जा सका. बीसएफ का मानना है कि ये वही एंटी थर्मल टेकनोलोजी है जिसे वीडियो में पकड़ना आसान नहीं होगा.

First published: 9 August 2018, 12:40 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी