Home » इंडिया » ISRO Chief K Sivan says Chandrayaan-2 orbiter is doing very well
 

Chandrayaan-2 से आई खुशखबरी, ISRO चीफ ने मीडिया को बताई बड़ी बात

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 September 2019, 14:11 IST

भारतीय स्पेस एजेंसी ISRO का 7 सितंबर को चंद्रयान 2 के लैंडर से संपर्क टूट गया था. इसके बाद लैंडर ने चंद्रमा पर हार्ड लैंडिंग की थी. जिससे वह चांद की सतह पर तिरछा गिर गया था और अब उससे संपर्क की पूरी उम्मीद खत्म हो गई है. लेकिन ISRO चीफ के सिवन ने आज चंद्रयान को लेकर एक बड़ी खुशखबरी दी है.

के सिवन ने बताया कि चंद्रयान-2 का आर्बिटर बहुत अच्छा काम कर रहा है. उन्होंने बताया कि ऑर्बिटर में 8 इंस्ट्रूमेंट्स लगे हैं और हर इंस्ट्रूमेंट वही काम करता है जो उसे करना होता है. ऑर्बिटर के सारे इंस्ट्रूमेेंट की हमने जांच की है और सभी बेहतरीन तरीके से काम कर रहे हैं. सिवन ने बताया कि हमारी अगली प्राथमिकता गगनयान मिशन है.

हालांकि के सिवन ने चंद्रयान-2 पर अपना अपडेट देते हुए कहा है कि लैंडर विक्रम से संचार स्थापित करने में हम सक्षम नहीं हो पाए हैं. चांद के दक्षिणी ध्रुव पर अब अंधेरा बढ़ गया है. इसके साथ ही लैंडर विक्रम से संपर्क साधने की कोशिशों पर विराम लग गया है.

वैज्ञानिकों के अनुसार, चांद पर छाने वाला अंधेरा इतना घना होता है कि वहां पर कुछ भी देखना लगभग नामुमकिन सा हो जाता है. इसरो ही नहीं दुनिया की कोई भी अंतरिक्ष एजेंसी अब विक्रम लैंडर की तस्वीर नहीं ले पाएगी. ये अंधेरा 14 दिन तक बना रहेगा. ऐसे में विक्रम लैंडर के सलामत रहने की उम्मीद न के बराबर हो जाएगी.

अंधेरे के बाद चांद के दक्षिणी ध्रुुव का तापमान माइनस 183 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाएगा. ऐसे में लैंडर विक्रम को इतने कम तापमान में अपने आप को संभालकर रखना बेहद मुश्किल होगा. इतने कम तापमान में विक्रम के इलेक्ट्रॉनिक हिस्से खराब हो जाएंगे. ऐसे में विक्रम से संपर्क साधने की सारी उम्मीदें लगभग खत्म हो चुकी हैं.

UP को तीन राज्यों में बांटने जा रही है योगी सरकार, उत्तर-प्रदेश, बुंदेलखंड और पूर्वांचल होंगे नाम !

पत्रकार ने पूछा चाचा शिवपाल को पार्टी में वापस लेंगे, अखिलेश यादव के बयान से हैरान रह गए सब

First published: 21 September 2019, 14:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी