Home » इंडिया » ISRO: GSLVF11 successfully launches GSAT7A into Geosynchronous Transfer Orbit
 

भारत ने रचा इतिहास, ISRO ने सफलतापूर्वक GSAT-7A किया लॉन्च, वायुसेना होगी ताकतवर

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 December 2018, 18:10 IST

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने आज एक नया इतिहास रचा है. इसरो ने सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से Gsat-7A सफलतापूर्वक लांच कर दिया है. इसरो के अध्यक्ष डॉ के. सीवन ने बताया कि यह अत्याधुनिक सैटेलाइट है, जिसे ज़रूरतों के हिसाब से बनाया गया है, और यह सबसे दूरदराज के इलाकों में भी हाथ मे पकड़े जाने वाले उपकरणों तथा उड़ते उपकरणों से भी संपर्क कर सकता है.

बता दें कि इस सैटेलाइट की मदद से भारतीय वायुसेना को बड़ी ताकत मिलेगी. सैटेलाइट से ग्राउंड रडार स्टेशन, एयरबेस और AWACS एयरक्राफ्ट को इंटरलिंक करने में काफी सहायता मिलेगी. इससे एयरफोर्स के ग्लोबल ऑपरेशन को भी बड़ा पुश मिलेगा.

इससे ड्रोन ऑपरेशन, मानवरहित एरियल व्हीकल (UAV) की ताकत भी बढ़ेगी. गौरतलब है कि इससे पहले भी इसरो नेवी के लिए रुकमणी लॉन्च कर चुका है. दुनिया में अमेरिका, रूस और चीन जैसे देशों ने ही अभी तक अपनी सेना के लिए सैटेलाइट लॉन्च किया है.

First published: 19 December 2018, 18:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी